September 29, 2022 12:27 am
featured दुनिया देश

काबुल में अमेरिका की एयर स्ट्राइक, एयरपोर्ट के पास अमेरिका ने दागा रॉकेट, जानिए, तालिबान ने क्या कहा? 

1630241838 9647 काबुल में अमेरिका की एयर स्ट्राइक, एयरपोर्ट के पास अमेरिका ने दागा रॉकेट, जानिए, तालिबान ने क्या कहा? 

काबुल ब्लास्ट को लेकर इस वक्त की बड़ी खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि काबुल एयरपोर्ट के पास अमेरिका ने रॉकेट दागा। अमेरिका की ओर से कहा गया कि हमने ISIS-K के आतंकियों को बनाया निशाना। वहीं तालिबान का बयान भी इसको लेकर सामने आया है।

काबुल में अमेरिका की एयर स्ट्राइक, एयरपोर्ट के पास दागा रॉकेट

काबुल एयरपोर्ट के पास रविवार को रॉकेट से हमला किया गया। न्यूज एजेंसी राइटर्स के मुताबिक अमेरिका ने काबुल पर एयर स्ट्राइक की। वहीं अमेरिका ने इस धमाके को लेकर कहा कि हमला उसने किया है जिसमें ISIS-K के आतंकियों को रॉकेट से निशाना बनाया गया। एयरपोर्ट के पास स्थित रिहाइशी इलाके गुलाई में एक घर में रॉकेट जाकर गिरा। इस हमले में एक मासूम की मौत हो गई, जबकि तीन लोगों के घायल होने की खबर है।

‘ISIS-K के आतंकियों को रॉकेट से निशाना बनाया’

अमेरिका के दो अधिकारियों ने न्यूज एजेंसी रॉयटर्स को बताया कि अमेरिका ने काबुल में मिलिट्री स्ट्राइक की है। नाम न प्रकाशित करने की शर्त पर अधिकारी ने कहा, ”रॉकेट से यह हमला संदिग्ध आईएसआईएस-के के आतंकियों को निशाना बनाकर किया गया है।” उन्होंने यह भी बताया कि वे अभी शुरुआती जानकारी दे रहे हैं, इसमें बदलाव भी हो सकता है।

तालिबान ने कहा- अमेरिका ने की एयर स्ट्राइक

काबुल एयरपोर्ट के करीब हुए हमले पर तालिबान का बयान सामने आया है। तालिबान ने कहा कि अमेरिकी एयर स्ट्राइक में सुसाइड बॉम्बर की गाड़ी तबाह हो गई। तालिबान ने कहा कि सुसाइड बॉम्बर का टारगेट काबुल एयरपोर्ट था।

जो बाइडेन ने जताई थी धमाके की आशंका

रविवार को काबुल पर धमाके की आशंका अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने जताई थी। जिसके बाद अमेरिका ने अपने नागरिकों से काबुल एयरपोर्ट से दूरी बनाए रखने की अपील की थी। एयरपोर्ट के पास हुए हमले के बाद अफरा-तफरी मच गई है। लोग एक-दूसरी जगह भागते हुए दिखाई दिए।

आईएसआईएस और तालिबान में क्या है फर्क, क्यों है दोनों की सोच अलग?

पिछले ब्लास्ट में 170 लोगों की हुई थी मौत

बता दें कि तीन दिन पहले सिलसिलेवार तरीके से हुए दो बम ब्लास्ट से काबुल दहल गई थी। काबुल एयरपोर्ट के पास गुरुवार को एक के बाद एक कई धमाके हुए थे, जिसमें 170 अफगानिस्तान नागरिकों और 13 अमेरिकी सैनिकों की जान चली गई थी।

Related posts

शुभ लोन कम्पनी ने इस स्कीम के तहत जुटाई बड़ी राशि, इतने का हुआ फायदा

Trinath Mishra

झारखंड विधानसभा चुनाव: दूसरे चरण का मतदान आज कुल 20 सीटों पर वोट डाले जाएंगे

Trinath Mishra

चुनाव आयोग मतदाता सूची अपडेट करने के लिए चलाएगा अभियान

Srishti vishwakarma