featured दुनिया देश

नेपाल में फिर बड़ा ‘खेल’ ,परदे पीछे चीन की साजिश, SRILANKA दौरा रोक INDIA आ रहे नेपाली PM

ggg नेपाल में फिर बड़ा 'खेल' ,परदे पीछे चीन की साजिश, SRILANKA दौरा रोक INDIA आ रहे नेपाली PM

नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा चीनी विदेश मंत्री वांग यी की यात्रा के ठीक बाद भारत के दौरे पर आ रहे हैं।

 

यह भी पढ़े

चीनी कर्ज़ का मकड़जाल, SRILANKA हुआ कंगाल, खाने- पीने की चीजों की भी हो रही किल्लत

 

नेपाली पीएम का यह भारत दौरा ऐसे समय पर हो रहा है जब चीन अमेरिका के एम.सी.सी प्रॉजेक्‍ट को मंजूरी देने के बाद नेपाल से नाराज चल रहा है।

परदे पीछे क्या है चीन की साजिश

नेपाल में भारत और अमेरिका के बढ़ते प्रभाव से घबराया चीन अब एक बार फिर से इस हिमालयी देश की सियासत में बड़ा खेल करने की तैयारी में जुट गया है। अमेरिका के एमसीसी प्रॉजेक्‍ट को मंजूरी देने के बाद चीनी विदेश मंत्री जहां नेपाल की यात्रा पर जा रहा हैं। वहीं पूर्व प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली की पार्टी सीपीएन यूएमएल का एक प्रतिनिधिमंडल बीजिंग पहुंच चुका है। ऐसी अटकलें लगाई जा रही हैं कि चीन अब केपी ओली और उनके विरोधी प्रचंड के बीच समझौता कराने में जुट गया है। उधर, चीनी के बढ़ते दखल के बीच अब नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा श्रीलंका का दौरा रोककर भारत के दौरे पर आ रहे हैं।

नेपाली अखबार काठमांडू पोस्‍ट की रिपोर्ट

नेपाली अखबार काठमांडू पोस्‍ट की रिपोर्ट के मुताबिक नेपाल के प्रधानमंत्री देउबा 3 दिन की यात्रा पर 1 अप्रैल को भारत रवाना होने जा रहे हैं। देउबा चीन के विदेश मंत्री वांग यी की नेपाल यात्रा के ठीक बाद भारत जा रहे हैं। भारत के दौरे की अहमियत को देखते हुए नेपाली प्रधानमंत्री बिमस्‍टेक की बैठक में हिस्‍सा लेने के लिए श्रीलंका नहीं जा रहे हैं। वह अब वर्चुअली इस बैठक को संबोधित करेंगे।

दौरे का मकसद

रिपोर्ट में कहा गया है कि देउबा 1 अप्रैल से 3 अप्रैल तक भारत के दौरे पर रहेंगे। उन्‍हें भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई दिल्‍ली आने का निमंत्रण दिया था। प्रधानमंत्री बनने के बाद देउबा की यह पहली विदेश यात्रा है। माना जा रहा है कि इस यात्रा के दौरान सीमा पार रेलवे सेवा शुरू करने को लेकर समझौता हो सकता है।

ds नेपाल में फिर बड़ा 'खेल' ,परदे पीछे चीन की साजिश, SRILANKA दौरा रोक INDIA आ रहे नेपाली PM

नेपाली पी.एम.की 4 साल बाद भारत यात्रा

देउबा की यह भारत यात्रा चीनी विदेश मंत्री की काठमांडू यात्रा के ठीक बाद होने जा रही है। यह किसी नेपाली प्रधानमंत्री की 4 साल बाद पहली भारत यात्रा है। इससे पहले ओली भारत आए थे लेकिन उनके कार्यकाल में भारत से संबंध बहुत खराब दौर में पहुंच गए थे।

चीन पर किस बात को लेकर दबाव

नेपाली संसद के अमेरिकी सहायता एमसीसी को मंजूरी देने के बाद चीन भड़का हुआ है। चीन का मानना है कि उसके बेल्‍ट ऐंड रोड परियोजना की काट के लिए अमेरिका ने इसे शुरू किया है। अमेरिकी सहायता को मंजूरी देने के बाद अब चीन बीआरआई प्रॉजेक्‍ट को शुरू करने को लेकर दबाव में बताया जा रहा है।

देउबा सरकार पर संकट

इस बीच ओली की पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल चीन पहुंच गया है। इसका नेतृत्‍व पार्टी के वाइस चेयरमैन विष्‍णु प्रसाद पौडयाल कर रहे हैं। ऐसी अटकलें तेज हो गई हैं कि ओली और प्रचंड के धड़े के बीच समझौता हो सकता है जिसकी तरफदारी चीन भी लंबे समय से कर रहा है। अगर ऐसा होता है तो देउबा सरकार पर संकट आ जाएगा।

नेपाल की जमीन पर कब्‍जा कर रहा चीन

चीन नेपाल की जमीन पर कब्‍जा कर रहा है। हाल ही में एक लीक रिपोर्ट में खुद नेपाल सरकार ने माना था कि चीन की ओर से सीमा पर यह कब्‍जा किया जा रहा है। ऐसा पहली बार है जब नेपाल ने माना है कि चीन सीमा पर नेपाली इलाके में हस्‍तक्षेप कर रहा है। इस रिपोर्ट को पिछले साल सितंबर महीने में देश के पश्चिमी इलाके में हुमला में चीन के कब्‍जा करने की खबरों के बाद तैयार किया गया था।

ggg नेपाल में फिर बड़ा 'खेल' ,परदे पीछे चीन की साजिश, SRILANKA दौरा रोक INDIA आ रहे नेपाली PM

नेपाल सरकार ने इस रिपोर्ट को तैयार तो कर लिया है लेकिन अभी तक उसने इसे प्रकाशित नहीं किया है। चीन के साथ संबंध खराब होने के डर से नेपाल सरकार रिपोर्ट को सार्वजनिक करने से डर रही है।

Related posts

छत्तीसगढ़: जय भीम की बजाए जय जोगी बोलने का आदेश, जिलाध्यक्ष ने दिया इस्तीफा

Breaking News

आत्मनिर्भर भारत में पंचायतों की महत्वपूर्ण भूमिका: मुख्यमंत्री

Rozy Ali

गुजरात के भरूच में फ्रैक्ट्री में हुआ बम ब्लास्ट 5 मजदूरों की मौत 57 घायल..

Mamta Gautam