September 25, 2021 11:01 pm
featured देश

इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे: जीवन में ख़ुशी के रंग भरता है ये दिन

इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे

आज इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे है जो पूरी दुनिया में सेलिब्रेट किया जा रहा है। इस दिन दुनिया भर में सभी लोग अपने दोस्तों को दोस्ती की शुभकामनाएं देते हैं। दोस्ती के नजरिए से इस दिन को खास माना जाता है साथ ही इस दिन दोस्तों के लिए खुशियां लुटाई जाते हैं। इस दिन दोस्तों को गिफ्ट दिए जाते हैं। और उनके साथ अपनी खुशियों के पल को बिताते हैं। जीवन में खुशियां भर देने वाला यह दिन दोस्ती के नाम पर बनाया गया है। यह दिन दोस्ती के नाम में चार चांद लगा देता है। सभी पुराने दोस्ती को ताजा करने के लिए इस दिन को चुना गया है। एक दूसरे से दूर रह रहे दोस्त भी आज भी दिन मिलकर एक दूसरे के साथ खुशियों के पल बिताते हैं। दुनिया भर में दोस्ती की एक मिसाल कायम है। दोस्ती के रिश्ते को एक अच्छा रिश्ता माना जाता है। एक दोस्त ही होता है जो दोस्त के अच्छे और बुरे मैं उसके साथ होता है। इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे उत्सव के रूप में मनाया जाता है। इस दिन लोग एक दूसरे से मिलते हैं और अपनी खुशियों का इजहार करते हैं। अक्सर कहा जाता है इंसान अपने परिवार रिश्तेदारों को नहीं चुन सकता लेकिन वह अपने दोस्त को चुन सकता है।

इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे – खुशियां बांटने का पर्व

इसी तरह दोस्ती की तुलना किताबों से की गई है। वैसे फ्रेंडशिप डे को लेकर तरह तरह की कहानियां प्रचलित है और इनमें से एक है कि 1930 में एक व्यापारी ने इस दिन की शुरुआत की थी जोस हॉल नाम के व्यापारी ने एक दिन ऐसा चुना जब सारे दोस्त एक दूसरे को कार्ड देकर अपने दोस्ती का जश्न मनाए। बाद में इसे इसी तरह मनाया जाने लगा। वही इसके अलावा एक और कहानी प्रचलित है जो डॉक्टर रमन से जुड़ी हुई है जिन्होंने अपने दोस्तों के सामने मित्रता दिवस मनाने का प्रस्ताव रखा था

एशियाई देशों में अलग दिन मनाया जाता है फ्रेंडशिप डे

वैसे फ्रेंडशिप डे दुनिया के अलग-अलग देशों में अलग-अलग दिन मनाया जाता है 27 अप्रैल 2011 को संयुक्त राष्ट्र संघ की आम सभा में 30 जुलाई को आधिकारिक अंतरराष्ट्रीय मित्रता दिवस के रूप में घोषित किया गया बात अगर एशियाई देशों की की जाए तो भारत समेत के कई अन्य देशों में इसे अगस्त के पहले रविवार को मनाया जाता है दोस्ती एक ऐसा रिश्ता है जिसे व्यक्ति स्वयं बनाता है

खून के रिश्ते से भी सच्ची होती है दोस्ती

दोस्ती एक ऐसा रिश्ता है जिसे खून के रिश्ते की जरूरत नहीं होती। दोस्त होते हैं जिनके साथ हम अपने दिल की बात शेयर करते हैं और बातों बातों में एक दूसरे की टांग खींचना, हंसी मजाक, रूठना मनाना बस यही होती है दोस्ती। 1935 में पहली बार यूनाइटेड स्टेट कांग्रेस ने अगस्त के पहले रविवार को फ्रेंडशिप डे मनाने की घोषणा की थी इसे पहली बार अमेरिका में मनाया गया था।

भारत में अगस्त के पहले रविवार को होता है फ्रेंडशिप डे

भारत में अगस्त के पहले रविवार को फ्रेंडशिप डे मनाया जाता है लेकिन दक्षिण अमेरिकी देशों में जुलाई महीने को काफी पावन पर्व माना जाता है इसलिए जुलाई के अंत में ही इस दिन को मनाया जाता है वहीं बांग्लादेश और मलेशिया में डिजिटल कम्युनिकेशन के तहत यह दिन ज्यादा चर्चित हो गया है। यूनाइटेड नेशन ने भी इस दिन पर अपनी मुहर लगा दी थी। करीब 60 साल पहले 1958 में पहली बार फ्रेंडशिप डे को अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त हुई जब दक्षिण अमेरिका के कई देश खासतौर पर पराग्वे में फ्रेंडशिप डे मनाया गया। ब्राज़ील अर्जेंटीना इक्वाडोर और उरुग्वे जैसे देशों में हर साल 30 जुलाई को फ्रेंडशिप डे मनाया जाता है।

दोस्ती का नहीं होता कोई मजहब

दुनिया के हर रिश्ते में दोस्ती को काफी अहम माना जाता है। भारत में भी दोस्ती को काफी मान्यता दी गई है। यहां तक कि बॉलीवुड ने दोस्ती को लेकर काफी फिल्में बनाई है कुछ फिल्में इस प्रकार है- दोस्ती, आनंद, याराना और दिल चाहता है यह सभी मूवी दोस्ती पर बनाई गई है। कहा जाता है कि दोस्ती का कोई मजहब नहीं होता हम चाहे तो किसी से भी दोस्ती कर सकते हैं। दोस्ती के लिए कोई उम्र की सीमा भी नहीं होती है दोस्ती के लिए सिर्फ विचारों का मिलना जरूरी होता है। दोस्ती के लिए यह सबसे अच्छी बात मानी गई है कि बिना किसी बंधन के हम किसी को भी अ पना दोस्त बना सकते हैं।

Related posts

लखनऊ: श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर पिंजरें में कैद पक्षियों को किया गया आज़ाद

Shailendra Singh

बैकफुट पर भाजपा, महात्मा गांधी मेरे लिए पूज्यनीय, मैं जनता से माफी मांगती हूं: साध्वी प्रज्ञा ठाकुर

bharatkhabar

योगी को धामी का झटका, उत्तराखंड में इस साल नहीं होगी कांवड़ यात्रा

Saurabh