January 25, 2022 10:11 am
featured दुनिया देश

पंजशीर पर कब्जा तालिबान के लिए नहीं होगा आसान, पंजशीर के शेर दे रहे जबरदस्त टक्कर, तालिबानियों को जाल में फंसाया

taliban will get tough competition know who is preparing for war in panjshir valley1749 पंजशीर पर कब्जा तालिबान के लिए नहीं होगा आसान, पंजशीर के शेर दे रहे जबरदस्त टक्कर, तालिबानियों को जाल में फंसाया

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल पर कब्जा करने के बाद भले ही तालिबान खुद को अफगानिस्तान का नया आका समझ बैठा हो लेकिन पंजशीर में उसकी हुकुमत दम तोड़ती दिख रही है। पंजशीर में अफगानिस्तान के लड़ाके तालिबान को जबरदस्त टक्कर दे रहे हैं।

पंजशीर की राह तालिबान के लिए नहीं आसान

बगलान में एक तरफ जहां अंद्राबी लड़ाकों ने तालिबान की नाक में दम किया हुआ है। तो वहीं दूसरी ओर पंजशीर में अहमद मसूद-अमरुल्ला सालेह की अगुवाई में नॉर्दन एलायंस के लड़ाके तालिबान से लोहा ले रहे हैं। काबुल पर कब्जा जमाकर भले ही तालिबान ने अपनी सरकार बनाने की ओर कदम बढ़ा दिए हों लेकिन अभी भी वो एक मिशन से दूर है। पंजशीर पर तालिबानी लड़ाके अभी भी अपनी हुकुमत जमाने में नाकामयाब हैं। पंजशीर में अफगानिस्तान की सेना के सामने तालिबान के लड़ाकों के लिए ये जंग जीतनी आसान नहीं होगी।

‘300 तालिबानियों को मौत के घाट उतारा’

अफ़ग़ानिस्तान की पंजशीर घाटी को लेकर तालिबान और उसकी विरोधी ताक़तों ने अलग-अलग दावे किए हैं। तालिबान ने पंजशीर घाटी को घेरने की जानकारी दी है तो विरोधी ताक़तों ने उसे इस इलाक़े से दूर रहने की चेतावनी दी है। ये क्षेत्र अहमद मसूद का है। साथ ही यहां पर अफगानिस्तान के कार्यकारी राष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह भी रुके हुए हैं। एक ओर तालिबान पंजशीर घाटी को तीन तरफ से घेरे जानी की बात कह रहा है। तो दूसरी ओर नॉर्दर्न एलायंस की ओर से दावा किया जा रहा है कि करीब 300 तालिबानियों को मौत के घाट उतार दिया गया है।

अफगान लड़ाकों के जाल में फंसा तालिबान

अब अफगानिस्तानी और तालिबानी नेता ट्वीट के जरिए पंजशीर के हालातों की जानकारी देने का काम कर रहे हैं। अफगानिस्तान के कार्यकारी राष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह ने पंजशीर की सीमाओं पर जारी जंग को लेकर ट्वीट किया। उन्होंने बताया कि अंदराब घाटी में तालिबानी हमारे लड़ाकों के ट्रैप में फंस गए। आगे लिखा है कि अब तालिबानी पंजशीर की सीमा पर बड़ी संख्या में आ गए हैं। लेकिन, सालांग हाइवे हमारे लड़ाकों के पास है।

‘तीन तरफ से पंजशीर घाटी को घेरा’

अफ़ग़ानिस्तान की पंजशीर घाटी को लेकर तालिबान और उसकी विरोधी ताक़तों ने अलग-अलग दावे किए हैं। तालिबान के प्रवक्ता ज़बिउल्लाह मुजाहिद ने पंजशीर घाटी को तीन तरफ से घेरे जाने की जानकारी दी और ट्विटर पर लिखा, “अमीरात मामले को शांति के साथ सुलझाना चाहता है।” वहीं तालिबाने के मुताबिक उनके लड़ाकों ने पंजशीर घाटी को तीन तरफ से घेर लिया है।

20 साल पहले तालिबानियों, रूसी सेना को दी थी टक्कर

20 साल पहले तालिबानियों, रूसी सेना को टक्कर देने वाला नॉर्दन एलांयस के लड़ाके अब एक बार फिर तालिबान के खिलाफ सबसे बड़ी दीवार बनकर सामने आए हैं. बताया जा रहा है कि तालिबान ने इस इलाके में हमला करना चाहा लेकिन वह नॉर्दर्न एलायंस के लड़ाकों के चंगुल में आ गए। वहीं नॉर्दन एलायंस के लड़ाकों के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। जिसमें वो जबरदस्त ट्रेनिंग लेते दिख रहे हैं। तो वहीं तालिबानी लड़ाके भी अब भारी संख्या में पंजशीर की ओर रुख कर चुके हैं।

पंजशीर घाटी पर कब्जा करना नहीं होगा आसान

पंजशीर को छोड़कर तालिबान पूरे अफगानिस्तान को अपने कब्जे में ले चुका है। काबुल में भी तालिबान विराजमान हो चुका है। ऐसे में पंजशीर में अफगानिस्तान के लड़ाके तालिबानियों के सामने ढाल बनकर खड़े हैं। इनकी तैयारी को देखकर ये अंदाजा लगाया जा सकता है कि तालिबान के लिए पंजशीर पर कब्जा करना आसान नहीं होगा।

Related posts

पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र रहा मैडम तुसाद म्यूजियम, इन कारणों से अब होगा बंद

Aman Sharma

मध्यप्रदेश में ट्रक पलटने से 5 मज़दूरों की मौत, 20 घायल

Rani Naqvi

महोबा में अखिलेश की रथ यात्रा आज, 5 सोलर पावर प्लांट का करेंगे उद्घाटन

kumari ashu