यूपी में कोरोना संक्रमण का खतरा, कैदियों के लिए बड़ा फैसला

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में शनिवार को आई कोरोना टेस्‍ट रिपोर्ट में बीते 24 घंटे में 27,357 नए संक्रमित सामने आए हैं, जबकि 120 लोगों की मौत हुई है। सबसे ज्‍यादा 5,913 नए मामले लखनऊ से हैं और यहां सर्वाधिक 36 लोगों की मौत हुई है।

वहीं, राजधानी में बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए डीजी जेल आनंद कुमार ने बड़ा निर्णय लिया है। उन्‍होंने जेल में कैदियों की सुरक्षा को लेकर सभी जेल अधीक्षकों को निर्देश जारी किए हैं।

अस्‍थाई जेलों की व्‍यवस्‍था कराने के निर्देश  

डीजी जेल आनंद कुमार ने जेल अधीक्षकों को जिला प्रशासन से संपर्क करके अस्थाई जेलों की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। उन्‍होंने कहा कि, किसी भी अपराध में जेल आने वाले कैदी 14 दिन अस्थाई जेल में रहेंगे और इसके बाद उन्‍हें मुख्य जेल ले जाया जाएगा।

कैदियों की वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग से पेशी की हो व्‍यवस्‍था  

डीजी जेल ने निर्देश देते हुए कहा कि, कोरोना टेस्ट कराने के बाद कैदी अस्थाई जेल से मुख्य जेल में शिफ्ट होंगे। उन्‍होंने अस्थाई जेल में सभी कैदियों की कोरोना जांच कराने के निर्देश दिए हैं। साथ ही उन्‍होंने सभी जिला अधिकारियों को जेल में बंद कैदियों की पेशी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से कराने के लिए व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं।

चारबाग स्टेशन पर प्लेटफार्म टिकटों की बिक्री बंद

उधर, कोरोना संक्रमण के ही कारण लखनऊ स्थित चारबाग स्टेशन पर प्लेटफार्म टिकटों की बिक्री बंद कर दी गई है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए लखनऊ डीआरएम ने यह निर्णय लिया है। उन्‍होंने बताया कि, लखनऊ के चारबाग स्टेशन पर अग्रिम आदेशों तक प्लेटफार्म टिकट नहीं मिलेगा।

कोरोना पर लगाम लगाने का फार्मेसिस्ट फेडरेशन ने दिया ये अचूक मंत्र

Previous article

सीएम योगी ने यहां पर तैनात अफसरों को चेताया

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured