रेलवे में भर्ती के लिए पदों की संख्या बढ़ी

विश्व के सबसे बड़े सार्वजनिक क्षेत्र के रोजगार प्रदाता भारतीय रेल ने विगत दिनों 90 हजार पदों के लिये वैकेंसी निकाली थी, अब इसकी संख्या बढ़कर एक लाख दस हजार हो गई है।
भारतीय रेल के इस मेगा भर्ती अभियान पर महाप्रबंधक एम.सी चौहान ने कहा कि यह सत्य ही कहा जाता है कि भारतीय रेल राष्ट्र की जीवन रेखा है। ऐसा अभूतपूर्व भर्ती अभियान शुरू करने से भारतीय रेलवे संगठन में रिक्तियों को भरने और 35 साल से कम उम्र के देश के करीब 80 करोड़ युवाओं को रेलवे में अपनी योग्यता सिद्ध करने के अवसर प्रदान करने के दोहरे उद्देश्यों को प्राप्त कर रहा है।

 

प्रतिकात्मक तस्वीर

 

चौहान ने कहा कि महत्वपूर्ण यह है कि भारतीय रेल 13 लाख कार्यरत कर्मचारियों एवं लगभग इतने ही सेवानिवृत्त कर्मचारियों वाला भारत का सबसे बड़ा रोजगार प्रदाता है। रेलवे की नौकरियां देश के युवाओं के लिए सबसे अधिक आकर्षक रोजगार विकल्पों में से एक हैं। क्योंकि वे विकास और चुनौती दोनों के साथ-साथ जीवन शैली के अच्छे स्तर की पेशकश करती हैं, साथ ही कई अन्य अंतर्निहित लाभ भी हैं जो रेलवे में कैरियर को अधिक आकर्षक बनाते हैं।

 

मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी ने बताया कि इनमें 9000 से अधिक पद रेलवे सुरक्षा बल एवं रेलवे सुरक्षा विशेष बल में हैं। यह उन सभी अभ्यर्थियों के लिये अच्छी सूचना है जिन्हे ‘खाकी’ वर्दी आकर्षित करती है। इसके अतिरिक्त दस हजार अतिरिक्त पद जोड़े गये हैं।