September 25, 2021 12:24 pm
खेल देश

यूएई में 19 सितंबर से खेलेंगे आईपीएल, 10 नवंबर को होगा फाइनल

बीसीसीआई ने आईपीएल 2020 कराने का फैसला लिया है। यह फैसला आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की बैठक में लिया गया है। आईपीएल की 13वें सीजन का आयोजन यूएई में 19 सितंबर से 10 नवंबर तक कराने का फैसला लिया गया है। इंडियन प्रीमियर लीग संचालन परिषद ने चीनी मोबाइल कंपनी वीवो समेत सभी प्रायोजकों को बरकरार रखने का फैसला किया है। संयुक्त अरब अमीरात में होने वाले टूर्नामेंट के दौरान कोविड-19 संक्रमण की चपेट में आने की स्थिति में कितने भी खिलाड़ियों को बदलने की मंजूरी दी है। आपको बता दें कि टूर्नामेंट 19 सितंबर से 10 नवंबर तक संयुक्त अरब अमीरात के तीन स्टेडियम दुबई। शाहजहा और अबू धाबी में खेला जाएगा।

हर दिन होंगे 2 मैच

टूर्नामेंट में हर दिन 2 मैच होंगे शाम के मैच की शुरुआत भारत के समय अनुसार 7:30 बजे से होगी। मीटिंग में यह फैसला लिया गया है कि आईपीएल को अगले सप्ताह में बढ़ा दिया जाएगा इसलिए आईपीएल का फाइनल 10 नवंबर को खेला जाएगा। सख्त प्रोटोकॉल को देखते हुए इस बात को सुनिश्चित करने के लिए कि मैचों के बीच अच्छा अंतर रहे। 10 टेबल हेडर प्लान किए गए हैं। साथ ही बोर्ड कहा है कि महिला T20 चैलेंज अभी यूएई में होगा और इसमें तीन टीमें होंगी। जिसमें आईपीएल प्लेऑफ हफ्ते में चार मैच खेले जाएंगे।

आईपीएल में विवो कंपनी रहेगी बरकरार

आपको बता दें कि आईपीएल के दौरान विवो कंपनी की टीम बरकरार रहेगी। इसको लेकर आईपीएल के एक सदस्य ने कहा मैं सिर्फ यही कह सकता हूं कि हमारे सभी प्रयोजक हमारे साथ है। जिसमें चीन की कंपनी विवो भी शामिल है। भारत और चीन के बीच तनाव की स्थिति को लेकर चीनी प्रयोजन बड़ा मुद्दा बन गया था चीन के बहुत सारे प्रोडक्ट को प्रतिबंधित भी किया गया था। चीनी प्रोडक्ट का बहिष्कार किया जा रहा था। इसके चलते बीसीसीआई ने इसके बाद करार की समीक्षा का वादा किया था। आईपीएल के परियोजन के अनुबंध में कोई बदलाव नहीं किया गया है। जिसकी जानकारी शनिवार को दे दी गई थी। इसको लेकर कहा गया है कि मौजूदा वित्तीय कठिनाई को देखते हुए इतने कम समय में बोर्ड के लिए नया प्रयोजक ढूंढना मुश्किल होगा इसी के चलते चीन की कंपनी वीवो के साथ डील को बरकरार रखा गया है। और साथ ही यह भी कहा गया है कि इसकी समीक्षा की जाएगी।

खिलाड़ियों को बदलने की होगी अनुमति

आईपीएल में इस बार खिलाड़ियों को बदलने को लेकर अनुमति दी गई है। कोविड-19 के चलते खिलाड़ियों को बदलने को लेकर अनुमति दी गई है। इसको लेकर कहा गया है कि कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। इसके चलते अगर किसी खिलाड़ी को बाहर किया जाता है तो उसके लिए पूरी अनुमति होगी। पूरी दुनिया में स्वास्थ्य सुरक्षा संबंधी नाजुक परिस्थितियों को देखते देखते हुए कोविड-19 के कारण खिलाड़ियों को बदला जा सकता है। खिलाड़ियों को बदलने की कोई सीमा नहीं होगी कोई भी टीम अगर कितने भी खिलाड़ी बदलना चाहे तो वह बदल सकती है। इसको लेकर आईपीएल के सदस्यों ने कहा हमें 1 हफ्ते के अंदर गृह और विदेश मंत्रालय से मंजूरी मिलने की उम्मीद है। मंजूरी मिलती है 19 सितंबर से आईपीएल की शुरुआत होगी और फाइनल 10 नवंबर को खेला जाएगा। आईपीएल का फाइनल 10 नवंबर को इसलिए रखा गया है क्योंकि यह दिवाली की हफ्ते में शामिल हो जाएगा और प्रचारकों को के लिए यह लुभावना मौका होगा।

टीमों में 24 – 24 खिलाड़ी होंगे शामिल

इस बार आईपीएल के दौरान प्रत्येक टीम में 24 खिलाड़ी मौजूद रहेंगे। खेलने वाले सदस्यों के हिसाब से आठ फ्रेंचाइजी होंगी। कोविड-19 के कारण 24 खिलाड़ियों को रखा जाएगा साथ ही खिलाड़ियों की संख्या में बदलाव भी संभव होंगे। बीसीसीआई ने कहा है कि यूएई में चिकित्सा सुविधाएं बनाने के लिए दुबई के ग्रुप से प्रस्तुतीकरण मिला है। बीसीसीआई जैव सुरक्षित वातावरण बनाने के लिए टाटा ग्रुप से बातचीत कर रहा है।

Related posts

राजधानी में बदले मौसम के तेवर, इन राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी

Rahul

लोकसभा में इस बार अलग मानसून सत्र नहीं वर्तमान को ही बढ़ाकर पूरा होगा काम

bharatkhabar

Bihar election result 2020: बिहार चुनावों को लेकर प्रकाश राज की प्रतिक्रिया, बोले मेरा देश अब ठीक होना शुरू हो जायेगा

Samar Khan