whatsapp private policy भारत का 'संदेश' और 'संवाद' देने वाला है WHATSAPP को टक्कर, देसी एप बना रही सरकार!
भारत का 'संदेश' और 'संवाद' देने वाला है व्हाट्सएप को टक्कर, देसी एप बना रही सरकार!

भारत सरकार अपने आत्मनिर्भर भारत के सपने को सकार करने की कोशिशों में लगी है. इसी के चलते अब भारत सरकार ने एक और कदम आगे बढ़ाने की सोची है और इस बार सरकार टक्कर देने जा रही है, नंबर वन मैसेजिंग ऐस व्हाट्सएप को. जी हां जानकारी के मुताबिक, भारत सरकार मैसेजिंग एप का अपना देसी वर्जन लॉन्च करने की तैयारी कर रही है. केंद्र सरकार स्वदेशी मैसेजिंग ऐप बना रही है. जानकारी के मुताबिक इसका नाम संदेश और संवाद होगा.

WHATSAPP की प्राइवेसी पॉलिसी के चलते फैसला
दरअसल, व्हाट्सएप की नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर चल रहे विवाद के बीचे केंद्र सरकार ने ये फैसला लिया है. केंद्र सरकार ने व्हाट्सएप को टक्कर देकर करारा जवाब देने की सोची है.

व्हाट्सएप जैसे दो एप्स लाने की तैयारी में
भारत में व्हाट्सएप जैसे दो मैसेजिंग एप का परीक्षण चल रहा है. ये परीक्षण बीटा चरण में चल रहा है. इन एप्स में एक का नाम संदेश और दूसरे का नाम संवाद रखा गया है. बताया जा रहा है कि ये दोनों की एपलिकेशन्स पूरी तरह से भारत सरकार की ओर से बनाई जा रही हैं. ये जानकारी इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय से प्राप्त हुई है.

व्हाट्सएप की तरह ही काम करेंगी दोनों एप्स
मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, ये दोनों ही एप्स व्हाट्सएप की तरह की काम करेंगी. इसके साथ ही सरकार GIMS यानी सरकारी इंस्टेट मैसेजिंग ऐप पर भी काम कर रही है. इसका इस्तेमाल भारत सरकार के कर्मचारी ही आपसी बातचीत के लिये करेंगे.

विवाद का विषय WHATSAPP की नई पॉलिसी
व्हाट्सएप की नई प्राइेवसी पॉलिसी विवाद का विषय बनी हुई है. व्हाट्सएप के यूजर्स और भारत सरकार ने भी इसकी आलोचना की है. आपको बता दें व्हाट्सएप अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी 15 मई से लागू करने जा रहा है.

फेसबुक के स्वामित्व वाला व्हाट्सएप ने अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी में कई तरह की कंडीशन्स रखी हैं, जिसके कारण कई व्हाट्सएप यूजर्स ने सिग्नल और टेलीग्राम जैसी मैसेजिंग एप्स का इस्तेमाल शुरू कर दिया है.

व्हाट्सएप अब उपयोगकर्ताओं को नई प्राइवेसी पॉलिसी के बारे में शिक्षित करना चाहता है और नई नीतियों के बारे में गलत जानकारियों को दूर करना चाहता है। व्हाट्सऐप ने अपने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा है कि वो अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी के बारे में उपयोगकर्ताओं को समझाएंगे और उन्हें ही इस नई पॉलिसी को रिव्यू करने का मौका भी देंगे। व्हाट्सऐप ने कहा है कि वो इस पॉलिसी के बारे में फैली सभी गलत जानकारियों का सामना करेंगे और हरेक भ्रम को दूर करने के लिए कड़ी मेहनत करेंगे.

शराब तस्करों पर पुलिस का शिकंजा, भारी मात्रा में शराब भी बरामद

Previous article

भारत की बेटियों ने फिर किया कमाल, मोंटेनेग्रो एड्रिएटिक पर्ल बॉक्सिंग टूर्नामेंट में अव्वल

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured