इंदौरः इमाम हुसैन की सीख देश और दुनिया के लिये आज भी प्रासंगिक- प्रधानमंत्री

इंदौरः इमाम हुसैन की सीख देश और दुनिया के लिये आज भी प्रासंगिक- प्रधानमंत्री

इंदौरः प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि इमाम हुसैन अमन और इंसाफ के लिये शहीद हो गये। उन्होंने अन्याय और अहंकार के विरूद्ध आवाज बुलंद की थी। उनकी सीख आज भी देश-दुनिया के लिये प्रसंगिक है। उनके पैगाम को बोहरा समाज ने जीवन में उतारा है। सबको साथ लेकर चलने की परम्परा को जीकर दिखाया है। दाऊदी बोहरा समाज की सोच देश और समाज को शक्ति प्रदान करती है।

 

 

मोदी आज सैफी मस्जिद इंदौर में पवित्र अशरा मुबारक कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर दाऊदी बोहरा समाज के धर्मगुरू सैयदना मुफद्दल सैफउद्दीन साहब, मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान और विश्वभर से आये बोहरा समाज के धर्मावलंबी मौजूद थे।

इसे भी पढ़ेः  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बाणसागर नहर परियोजना राष्ट्र को समर्पित की

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश में 15 सितम्बर से 2 अक्टूबर तक ‘स्वच्छता ही सेवा’ पखवाड़ा मनाया जा रहा है। दुनिया में एक साथ करोड़ों लोग स्वच्छता के कार्य एक साथ करेंगे। यह कीर्तिमान होगा। उन्होंने अभियान से जुड़ने का आमंत्रण दिया। बताया कि समाज के सभी वर्गों से वीडियो कांफ्रेंस कर अनुरोध करेंगे। मोदी ने स्वच्छताग्राहियों का आव्हान किया कि वे वेस्ट टू एनर्जी पर विशेष बल दें।

नियम-कानूनों के दायरे में सफलता से व्यापार का संदेश देने में सरकार सफल रही है

मोदी ने कहा कि  नियम-कानूनों के दायरे में सफलता से व्यापार का संदेश देने में सरकार सफल रही है। सरकार द्वारा व्यापारियों, कारोबारियों को हरसंभव सहयोग और सहायता दी जा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा शुरू किया गया स्वच्छता अभियान 125 करोड़ लोगों का जन-आंदोलन बन गया है। स्वच्छता के प्रति अभूतपूर्व आग्रह दिख रहा है। इंदौर शहर अभियान का अगुआ बन गया है। भोपाल ने भी इसमें कमाल किया है। उन्होंने इस उपलब्धि के लिए राज्य सरकार, नगर निगम और नागरिकों को बधाई दी।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पं दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर वर्ष में 5 लाख रूपए तक के निशुल्क उपचार का कार्यक्रम ‘आयुष्मान” देश में लागू हो जायेगा। यह स्वास्थ्य के क्षेत्र में दुनिया का बड़ा कार्यक्रम है। इसमें यूरोप की आबादी के बराबर करीब 50 करोड़ लोगों को स्वास्थ्य सेवा मिलेगी। वर्तमान सरकार के कार्यकाल में घरों में शौचालय का प्रतिशत 40 से बढ़कर 90 हो गया है। एक करोड़ परिवारों को पक्के घर मिल गए हैं। मेडिकल उपचार औषधि की कम कीमतें, बेहतर सुविधाएं मिलीं हैं।

महेश कुमार यदुवंशी