featured यूपी

फतेहपुर: परिजनों के साथ गंगा स्नान को गए दोस्त नदी में डूबे, रेस्क्यू जारी

फतेहपुर: परिजनों के साथ गंगा स्नान को गए दोस्त नदी में डूबे, रेस्क्यू जारी

फतेहपुर:  जिले में सावन के पहले सोमवार को गंगा स्नान के लिए आये दो युवक असंतुलित होकर नदी में डूब गए। मौके पर लोगों ने युवकों की जान बचाने का प्रयास किया, लेकिन सफलता नहीं मिली और देखते ही देखते दोनों युवक गंगा नदी में डूब गए।FATEHPUR RIVER 2 फतेहपुर: परिजनों के साथ गंगा स्नान को गए दोस्त नदी में डूबे, रेस्क्यू जारी

घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर उप जिलाधिकारी सदर प्रमोद झा, पुलिस उपाधीक्षक संजय सिंह, नायब तहसीलदार विकास पाण्डेय, थानाध्यक्ष मलवां अरविंद सिंह सहित पीएसी बल जा पहुंचा। गोताखोर और कई मछुआरों ने भी जाल डालकर युवकों की तलाश की लेकिन अभी तक कोई पता नहीं चला है। पुलिस उपाधीक्षक ने बताया कि प्रयास जारी है साथ ही लखनऊ से एसडीआरएफ की टीम मौके पर आ रही है।

जगन्नाथ अलीपुर के रहने वाले 25 वर्षीय नीतेश सविता और 26 वर्षीय संजय विश्वकर्मा मलवां थानाक्षेत्र के आदमपुर गंगा घाट में स्नान करने गए थे। सुबह दोनों दोस्त स्नान करते-करते गहराई में उतरने का प्रयास करने लगे।FATEHPUR RIVER 5 फतेहपुर: परिजनों के साथ गंगा स्नान को गए दोस्त नदी में डूबे, रेस्क्यू जारी

इसी बीच युवकों का संतुलन अचानक बिगड़ गया और दोनों नदी के अथाह पानी में डूबने लगे। उनकी चीख पुकार सुनकर वहां पर स्नान कर रहे लोगों ने उन्हें बचाने का प्रयास किया लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी।

दोनों को तैरना नहीं आता था

दोनों में किसी को नदी में तैरना नहीं आता था इससे दोनों दोस्त गंगा नदी में डूब गए। पुलिस उपाधीक्षक संजय सिंह ने बताया कि दोनों युवकों की तलाश के लिए मछुआरे और पीएसी के गोताखोरों को नदी में उतारा गया था। साथ ही स्थानीय लोगों ने भी गोताखोरों की मदद से डूबे युवकों को खोजने का प्रयास किया लेकिन सफलता नहीं मिली है।FATEHPUR RIVER 6 फतेहपुर: परिजनों के साथ गंगा स्नान को गए दोस्त नदी में डूबे, रेस्क्यू जारी

नदी में अचानक बढ़ा पानी

आसपास पांच किलोमीटर के क्षेत्र में जाल डलवाकर सघन सर्च अभियान चलाया गया लेकिन युवकों का कोई पता नहीं चला। उन्होंने बताया कि नदी में अचानक पानी बढ़ जाने के कारण यह घटना हुई। इसीलिए डूबे युवकों को खोजने में दिक्कत आ रही है।

एसडीआरएफ टीम रवाना

गंगा नदी में तेज बहाव और पानी ज्यादा होने के कारण स्थानीय पुलिस और पीएसी को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही घाट के मछुआरे भी इस स्थिति से निपटने में असफल हो गए हैं। ऐसे में एसडीआरएफ की टीम को मौके पर बुलाया गया है। समाचार लिखे जाने तक टीम लखनऊ से फतेहपुर के लिए रवाना हो चुकी थी।

Related posts

उत्तर-पूर्वी दिल्ली के विभिन्न हिस्सों में सीएए के समर्थन और विरोध में हिंसा के दौरान एक युवक मे पुलिस पर तानी पिस्तोल

Rani Naqvi

पति ने दिया तीन तलाक तो महिला ने पीएम से मांगी इच्छा मृत्यु

kumari ashu

कश्मीर में मुठभेड़ के दौरान 4 आतंकवादी मारे गए, एक जिंदा पकड़ा गया

bharatkhabar