September 19, 2021 11:47 pm
featured मध्यप्रदेश

30 सैकेंड में इस 10 साल के बच्चे ने बैंक से उड़ाए 10 लाख रूपये

madhiya pradesh 1 30 सैकेंड में इस 10 साल के बच्चे ने बैंक से उड़ाए 10 लाख रूपये

मध्यप्रदेश में एक 10 साल के बच्चे द्वारा सहकारी बैंक से 10 लाख रुपये चुराने का मामला सामने आया है। नीमच जिले के जावद इलाके में मौजूद बैंक में

भोपाल। मध्यप्रदेश में एक 10 साल के बच्चे द्वारा सहकारी बैंक से 10 लाख रुपये चुराने का मामला सामने आया है। नीमच जिले के जावद इलाके में मौजूद बैंक में यह चोरी सबसे व्यस्त समय में हुई। प्राप्त जानकारी के अनुसार 10 साल के बच्चे ने मात्र 30 सेकेंड में इस चोरी की वारदात को अंजाम दिया।

बता दें कि इस चोरी की भनक बैंक स्टाफ और बैंक में मौजूद अन्य लोगों को भी नहीं लगी। चोरी का खुलासा सीसीटीवी फुटेज से हुआ है। सीसीटीवी फुटेज में एक बच्चा सुबह 11 बजे सहकारी बैंक में आता है। वह कैशियर रूम में प्रवेश करता है। काउंटर के सामने खड़े ग्राहकों को इस बारे में कोई खबर नहीं लगती।

वहीं देखते ही देखते वह तेजी से नोटों की गड्डी को एक थैले में गिराता है और बाहर निकल आता है। वह 30 सेकेंड से भी कम समय में अंदर से बाहर आ जाता है। बच्चा जैसे ही चोरी करके दौड़ने लगाता है तो बैंक का अलार्म बज उठता है और बैंक का गार्ड उसके पीछे भागने लगता है लेकिन वो फरार हो जाता है।

https://www.bharatkhabar.com/unidentified-people-killed-the-vice-president-of-watergam-in-sopore-north-kashmir/

पुलिस को सीसीटीवी फुटेज से पता चला है कि बच्चे को 20 साल का कोई युवक निर्देश दे रहा था। यह युवक 30 मिनट तक बैंक के अंदर ही मौजूद था। जैसे ही उसने देखा कि एक कैशियर अपनी सीट से उठकर दूसरे कमरे में चला गया तो उसने नाबालिग को इशारा किया, जो बाहर खड़ा था। इसके बाद बच्चा नोटों के बंडल चुराकर फरार हो गया।

नीमच के एसपी मनोज राय ने कहा कि नाबालिग आरोपी बहुत छोटा था इसलिए कैश काउंटर के सामने खड़े लोग उसे पैसे चुराते हुए नहीं देख सकते थे। वारदात को लेकर कई संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है। इलाके में सड़क किनारे स्टॉल लगाने वाले कुछ लोगों को पूछताछ के लिए बुलाया गया है। निजी सुरक्षा गार्ड से भी पूछताछ की जा रही है।

Related posts

नमक की अफवाह ने उड़ाए होश, प्रशासन बोला कोई कमी नहीं

bharatkhabar

पीएम मोदी ने चीन से दिया शांति का संदेश

Pradeep sharma

तब्लीगी जमात मामले में सरकार के जबाब से नाराज सुप्रीम कोर्ट, कहा- एजेंसी का जिम्मा किसी और को सौंपा जा सकता है

Trinath Mishra