January 23, 2022 1:40 am
featured देश

IMA ने रामदेव को भेजा 1 हजार करोड़ का मानहानि नोटिस, लिखित माफी मांगने को कहा

ramdev IMA ने रामदेव को भेजा 1 हजार करोड़ का मानहानि नोटिस, लिखित माफी मांगने को कहा

बाबा रामदेव के ऐलोपैथी को लेकर दिए बयान पर अब IMA उत्तराखंड ने एक्शन ले लिया है।

ये भी पढ़ें: देश में कहां सबसे ज्यादा वैक्सीन की बर्बादी

दरअसल IMA ने रामदेव को 1000 करोड़ रुपये का मानहानि का नोटिस भेजा है। जिसमें रामदेव से अगले 15 दिन में उनके बयान का खंडन वीडियो और लिखित माफी मांगने का अल्‍टीमेटम है। नोटिस में IMA ने कहा कि बाबा रामदेव एलोपैथी का ‘ए’ तक नहीं जानते, हम उनके सवालों के जवाब देने को तैयार हैं। लेकिन पहले वो अपनी योग्यता बताएं।

‘15 दिन के अंदर मांगे लिखित माफी’

बताया जा रहा है कि IMA ने अपने नोटिस में कहा है कि अगर रामदेव 15 दिन के अंदर लिखित माफी नहीं मांगते हैं तो उनसे 1000 करोड़ रुपये की मांग की जाएगी। इसके अलावा नोटिस में रामदेव से 72 घंटे के अंदर कोरोनिल किट के भ्रामक विज्ञापन को हटाने के लिए भी कहा गया है। जिसमें रामदेव ने दावा किया था कि कोरोनिल कोविड वैक्सीन के बाद होने वाले साइड इफेक्ट पर प्रभावी है।

IMA ने भेजा है 6 पेज का नोटिस

IMA ने 6 पेज के नोटिस में बाबा रामदेव को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर वो सोशल मिडिया से अपने बयान को नहीं हटाते हैं तो उनपर 1 हजार करोड़ के मानहानि का दावा ठोकेंगे। नोटिस में कहा गया कि रामदेव के बयान से IMA से जुड़े 2 हजार सदस्यों का अपमान हुआ है। और एक डॉक्टर के 50 लाख की मानहानि के अनुसार हम 1 हजार करोड़ की मानहानि का केस करेंगे। रामदेव मे अपने बयान के जरिए सोशल मीडिया में ऐलोपैथी से जुड़े डॉक्टरों की छवि को धूमिल करने का प्रयास किया है।

IMA ने राज्‍य सरकार से की कार्रवाई की मांग

बता दें इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने रामदेव के एलोपैथी चिकित्सा के खिलाफ दिए गए बयानों को लेकर उत्तराखंड के सीएम को पत्र लिखा था। जिसमें रामदेव के खिलाफ तत्काल कार्रवाई करने की मांग की गई। IMA ने पत्र में कहा कि बाबा रादमेव के अपमानजनक बयान ने कोरोना से मुकाबला कर रहे डॉक्टर्स के मनोबल को तोड़ने के साथ उनमें गुस्सा पैदा किया है जो पूरी निष्ठा के साथ इस कठिन समय में काम कर रहे हैं।

Related posts

प्रणब मुखर्जी की फेक फोटो पर आरएसएस ने कहा, ‘यह संघ को बदनाम करने की घटिया चाल’

rituraj

गुजरात : थनगढ़ मामले की जांच के लिए एसआईटी गठित

bharatkhabar

प्रकाश राज ने कहा, मैं हिंदू नहीं, बल्कि मोदी और अमित विरोधी

Breaking News