January 25, 2022 9:56 am
featured यूपी

Lucknow: आखिर क्या है डॉक्टर्स प्रोटेक्शन एक्ट और क्यों आईएमए ने मनाया विरोध दिवस, यहां जानिए  

Lucknow: आखिर क्या है डॉक्टर्स प्रोटेक्शन एक्ट और क्यों आईएमए ने मनाया विरोध दिवस, यहां जानिए

लखनऊ: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन यानि आईएमए से जुड़े डॉक्टर्स ने काली पट्टी एवं काला मास्क पहन कर ‘नेशनल प्रोटेस्ट डे’ मनाया। राष्ट्रीय स्तरीय विरोध दिवस के तहत शुक्रवार को सभी डॉक्टर्स ने ओपीडी, इमरजेंसी एवं आईपीडी पर कार्य पर रहकर अपना विरोध जताया। वहीं राजधानी में भी आईएमए से जुड़े डॉक्टर्स एवं स्वास्थ्यकर्मियों ने राष्ट्रीय विरोध प्रदर्शन में प्रतिभाग किया।

क्या है इसके पीछे की वजह

दरअसल, आईएमए का कहना है कि पिछले कोविड काल से कई डॉक्टर्स इस महामारी से झूझ रहे हैं, पूरे देश में तकरीबन 725 डॉक्टर्स और कुल मिलाकर 2000 स्वास्थ्यकर्मियों की मौत हो चुकी है। एसोसिएशन का कहना है कि दुःख इस बात का है कुछ लोग डॉक्टर्स के साथ अभद्र व्यव्हार करते हैं, डॉक्टर्स के साथ मारपीट करते हैं। हमारे विरोध का कारण यही है।

डॉ. रमा श्रीवास्तव (अध्यक्ष, आईएमए, लखनऊ) का कहना है, ‘डॉक्टर्स और चिकित्साकर्मियों पर निरंतर हमले हो रहे हैं, ऐसी ही घटनाओं के खिलाफ हम विरोध दिवस मना रहे हैं। डॉक्टर्स और चिकित्साकर्मियों के प्रति इस तरह की घटनाएं अशोभनीय हैं।’ उन्होंने एसोसिएशन की मांगों पर भी प्रकाश डालते हुए कहा कि, ‘स्वास्थ्यकर्मियों पर हो रहीं इन घटनाओं पर सरकार और प्रशासन ध्यान दें और इस तरह प्रकरण अगर होता है तो दोषियों के खिलाफ डॉक्टर्स प्रोटेक्शन एक्ट के तहत कार्यवाही की जाए।’

क्या है डॉक्टर्स प्रोटेक्शन एक्ट

डॉ. रमा श्रीवास्तव ने बताया है कि उत्तर प्रदेश में डॉक्टर्स प्रोटेक्शन एक्ट यानी डीपीए 2013 में लागू किया गया था लेकिन अभी तक इस एक्ट के तहत अराजक तत्वों (डॉक्टर्स, पैरामेडिकल स्टाफ आदि पर हमला करने वाले) पर कार्यवाही नहीं हुई है। बता दें कि डीपीए के तहत स्वास्थ्य कर्मियों पर करने वाले लोगों को तीन माह से पांच साल तक की सजा का प्रावधान है। साथ ही उनपर 50,000 रुपये से दो लाख रुपये तक जुर्माना भी लगाया जा सकता है। इस तरह के अपराध को गैर-जमानती माना जाएगा।

Related posts

पीएम मोदी ने अंतराष्ट्रीय स्तर पर उठाया बलूचिस्तान का मुद्दा

shipra saxena

देश-भर में मनाया जा रहा है लोहड़ी का त्यौहार, क्यों खास है ये त्यौहार

Vijay Shrer

दिल्ली आतंकी मॉड्यूल का हुआ भंडाफोड़, महाराष्ट्र एटीएस और पुलिस ने संदिग्ध परिजनों से की पूछताछ

Neetu Rajbhar