अब तक कुल 3256 अवैध अतिक्रमणों का ध्वस्तीकरण, 6181 अतिक्रमणों का चिन्हीकरण व 108 भवनों के सीलिंग का कार्य सम्पादित किया गया

देहरादून। अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने बताया कि मा.न्यायालय के निर्देशों के क्रम में देहरादून शहर में मसूरी-देहरादून विकास प्राधिकरण, नगर निगम देहरादून एवं जिला प्रशासन देहरादून द्वारा जन सामान्य हेतु बनाये गये फुटपाथों, गलियों, सड़कों एवं अन्य स्थलों पर किये गये अनधिकृत निर्माणों एवं अवैध अतिक्रमणों में ध्वस्तीकरण, चिन्हांकन व सीलिंग का कार्य निरन्तर किया जा रहा है। आज शुक्रवार को इस अभियान के अन्तर्गत 61 अवैध अतिक्रमणों के ध्वस्तीकरण व 125 अतिक्रमणों के चिन्हीकरण का कार्य सम्पादित किया गया है। इस प्रकार अब तक कुल 3256 अवैध अतिक्रमणों का ध्वस्तीकरण, 6181 अतिक्रमणों का चिन्हीकरण व 108 भवनों के सीलिंग का कार्य सम्पादित किया जा चुका है।

 

 

बता दें कि अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने कहा कि नगर निगम की सीमा में हुए अतिक्रमण को हर कीमत पर हटाया जायेगा। उन्होंने कहा कि अतिक्रमणकारी चाहे कितना भी प्रभावीशाली क्यों न हो, उन्हें किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जायेगा। ओमप्रकाश ने अपील की है कि यदि जाने-अनजाने में भूलवश किसी ने सरकारी भूमि पर अतिक्रमण किया है, तो वे स्वयं ही उन अतिक्रमणों को हटा दें ताकि किसी प्रकार की अप्रिय कार्यवाही न करनी पडे। ओमप्रकाश ने दुबारा से अतिक्रमण करने वालों को चेतावनी देते हुए कहा कि ऐसे लोगों के विरूद्ध एफ.आई.आर. दर्ज की जायेगी। उन्होंने कहा कि मा.न्यायालय के निर्देशानुसार हर हालत में सार्वजनिक मार्गों से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही जारी रहेगी।

वहीं अतिक्रमण हटाओ अभियान टास्क फोर्स के अध्यक्ष/उपाध्यक्ष एम.डी.डी.ए. आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि देहरादून शहर के मुख्य मार्गों से अब तक 60 से 65 प्रतिशत तक अतिक्रमण हटा दिया गया है और अतिक्रमण मुक्त किये गये स्थानों पर पिलर लगाने की कार्यवाही भी तीव्र गति से की जा रही है। उन्होंने यह भी अवगत कराया कि सड़कों का ट्रापिकल सर्वे लोक निर्माण विभाग एवं स्मार्ट सिटी द्वारा कराया जा रहा है।