featured यूपी

आईआईटी के प्रोफेसर का बड़ा दावा, मई के पहले हफ्ते में शांत हो जाएगा कोरोना

आईआईटी के प्रोफेसर का बड़ा दावा, मई के पहले हफ्ते में शांत हो जाएगा कोरोना

लखनऊ। आईआईटी कानपुर के प्रोफेसर मानते हैं कि दिल्ली में अब कोरोना के मामले ज्यादा नहीं बढ़ेंगे। देश का आंकड़ा अधिकतम चार लाख तक जा सकता है। उत्तर प्रदेश का आंकड़ा 50 हजार तक जा सकता है, लेकिन इसके और बढ़ने की गुंजाइश नहीं है।

उन्होंने कहा कि जून महीने में लोगों को केस से काफी राहत होगी। इसके साथ ही यूपी में यूपी में 50 हजार से ज्यादा ये आंकड़ा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि ये कोरोना का पीक पीरियड चल रहा है।

जून से लोगों को मिलने लगेगी राहत

आईआईटी प्रोफेसर मनिंद्र अग्रवाल और उनकी टीम के अध्ययन के मुताबिक देश में कोरोना अब अपनी पीक पर है। देश में कोरोना के हालात भले ही भयावह हो लेकिन इस महामारी पर नजर रखने वाले एक्सपर्ट की राय में अब भारत में कोविड-19 अपने पीक पर पहुंच गया है और मई के पहले हफ्ते से यह अपने ढलान पर आएगा।

सरकार की कमेटी के सदस्य हैं प्रोफेसर अग्रवाल

आईआईटी कानपुर के प्रोफेसर मनिंद्र अग्रवाल जो कि सरकार की ओर से गठित कमेटी के सदस्य भी हैं, उनके और उनकी टीम की रिसर्च के मुताबिक महाराष्ट्र, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस अपने पीक पर है और मई के पहले हफ्ते से इसमें गिरावट शुरू हो जाएगी और जून महीने में लोगों को काफी राहत होगी।

मामले ज्यादा बढ़ने की गुंजाइश नहीं

मनिंद्र अग्रवाल के मुताबिक दिल्ली में अब कोरोना के मामले ज्यादा नहीं बढ़ेंगे. देश का आंकड़ा अधिकतम चार लाख तक जा सकता है. उत्तर प्रदेश का आंकड़ा 50 हजार तक जा सकता है, लेकिन इसके और बढ़ने की गुंजाइश नहीं है। मनिंद्र अग्रवाल के मुताबिक पश्चिम बंगाल में चुनाव की वजह से थोड़े मामले बढ़ेंगे, लेकिन बहुत ज्यादा असर नहीं होगा। उत्तर प्रदेश में भी पंचायत चुनाव की वजह से गांव में मामले थोड़े बढ़ेंगे उसका ओवरऑल डाटा पर असर नहीं पड़ेगा।

कई राज्यों में पीक पर चल रहा कोरोना

आईआईटी के प्रोफेसर के मुताबिक महाराष्ट्र अपने पीक पर है, तो राजधानी दिल्ली भी अपने पीक पर है. इसी तरह उत्तर प्रदेश के कई शहर लखनऊ और वाराणसी भी अपने पीक पर हैं। बिहार में थोड़े मामले और बढ़ेंगे। राजस्थान और मध्य प्रदेश भी लगभग अपने पीक पर हैं। ऐसे में मई का पहला हफ्ता कोरोना वायरस के घटने की शुरुआत लेकर आएगा।

Related posts

राजनाथ सिंह ने पाक को दी चेतावनी, कहा कोई छेड़ेगा तो छोड़ेंगे नहीं

shipra saxena

पाकिस्तान प्लेन क्रेश हादसे में कहां से आयी 3 करोड़ नकदी?

Mamta Gautam

लखनऊ: अब ये संस्थान भी जारी करेंगे मृत्यु प्रमाण पत्र

sushil kumar