जनवरी 2019 तक आईआईपी की वृद्धि दर 4.4 फीसद दर्ज की गई: सरकार

जनवरी 2019 तक आईआईपी की वृद्धि दर 4.4 फीसद दर्ज की गई: सरकार

एजेंसी, नई दिल्ली। देश में औद्योगिक क्षेत्र की रफ्तार मापने वाला औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) जनवरी 2019 में 1.7 फीसद की वृद्धि दर्ज किया गया है। सरकार के मंगलवार को यहां जारी आंकड़ों के अनुसार मौजूदा वित्त वर्ष के जनवरी 2019 तक आईआईपी की वृद्धि दर 4.4 फीसद दर्ज की गई है। आईआईपी में शामिल 23 उद्योग समूहों में से 11 में वृद्धि की गई है।

जनवरी 2019 में खनन के उत्पादन में 3.9 फीसद, विनिर्माण में 1.3 फीसद और बिजली में 0.8 फीसद की तेजी आई है। अप्रैल 2018 से लेकर जनवरी 2019 तक खनन का उत्पादन 3.2 फीसद, विनिर्माण का 4.4 फीसद और बिजली क्षेत्र का 5.9 फीसद बढ़त में रहा है।

आंकड़ों में बताया गया है कि जनवरी 2019 के दौरान खाद्य उत्पादन के समूह में सर्वाधिक 17 फीसद, परिधान समूह में 16.4 फीसद और प्रिटिंग एवं रिकार्डेड मीडिया के पुन: उत्पादन समूह में 10.4 फीसद की वृद्धि हुई है। दूसरी ओर इसी माह में फर्नीचर उत्पादन में सर्वाधिक 12 फीसद की गिरावट दर्ज की गई है। फैब्रिकेटेड धातु उत्पाद में 9.0 फीसद और कागज एवं कागज उत्पाद में 6.4 फीसद की कमी आई है।

उपभोग के आधार पर जनवरी 2019 में प्राथमिक वस्तु समूह में 1.4 फीसद की वृद्धि दर्ज की गई है। दूसरी ओर भारी वस्तु समूह में 3.3 फीसद, गौण वस्तु समूह में तीन फीसद तथा निर्माण एवं बुनियादी क्षेत्र से जुड़ी वस्तुओं के उत्पादन में 7.9 फीसद तेजी आई है। इसी माह में उपभोक्ता टिकाऊ वस्तु का उत्पादन 1.8 फीसद और उपभोक्ता गैर टिकाऊ वस्तु 3.8 फीसद की तेजी आई है।