featured खेल

क्रिकेट की दुनिया में भारत को लगा अब तक का सबसे बड़ा झटाक, बिना खेला ही गंवा दिया नम्बर-1 का ताज?

cricket 1 क्रिकेट की दुनिया में भारत को लगा अब तक का सबसे बड़ा झटाक, बिना खेला ही गंवा दिया नम्बर-1 का ताज?

जहां एक तरफ कोरोना महामारी के चलते पूरी दुनिया लॉकडाउन में है और दुनिया के सभी हिस्से पूरी तरह से बंद पड़े हैं। ऐसे में भारतीय क्रिकेट टीम को बड़ा झटा लग गया है। जिससे भारतीय क्रिकेटर के साथ-साथ क्रिकेट प्रेमियों को सदमा लग गया है।

cricket 2 क्रिकेट की दुनिया में भारत को लगा अब तक का सबसे बड़ा झटाक, बिना खेला ही गंवा दिया नम्बर-1 का ताज?
आपको बता दें,भारत ने आज बिना खेले ही नम्बर 1 टीम का ताज खो दिया है।

भारत ने मार्च के शुरुआती हफ्ते के बाद से कोई टेस्ट मैच नहीं खेला गया है। 30 अप्रैल तक टीम इंडिया टेस्ट में नंबर-1 टीम बनी हुई थी और 1 मई को उसका नंबर-1 का ताज छिन गया।
टेस्ट रैंकिंग में ऑस्ट्रेलिया नंबर-1 टीम बन गई है, जबकि न्यूजीलैंड दूसरे पायदान पर है। भारत नंबर-1 की गद्दी से फिसलकर तीसरे नंबर पर आ गया है।

अक्टूबर 2016 के बाद यह पहला मौका है, जब टीम इंडिया टेस्ट रैंकिंग में पहले पायदान से नीचे उतरी है। जो कि क्रिकेटर्स के साथ-साथ क्रिकेट के चाहने वालों के लिए किसी सदमे से कम नहीं है।

वहीं,आईसीसी बताया कि, भारत को इतना बड़ा झटा कैसे लगा?
रैंकिंग में मई 2019 तक खेले गए मैचों को 100 फीसदी जगह मिली है, जबकि इससे पहले के दो साल में खेले गए मैचों को 50 फीसदी जगह मिली है।

इस रैंकिंग में 2016-17 सीजन के मैच हटा दिए हैं। उस सीजन में भारत ने 12 टेस्ट मैच जीते थे और महज एक टेस्ट मैच गंवाया था। आईसीसी ने बयान के मुताबिक, ‘भारत ने 2016-17 सीजन में 12 टेस्ट मैच जीते थे और सिर्फ एक टेस्ट गंवाया था लेकिन मौजूदा रैंकिंग में इस सीजन का शामिल नहीं किया गया है, इसलिए भारत को नुकसान उठाना पड़ा है।

https://www.bharatkhabar.com/pakistan-cricket-board-pcb-file-case-against-shoaib-akhtar/
अंतराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय क्रिकेट टीम को लगे झटके ने सभी निराश कर दिया है। उम्मीद की जा रही है कि, आने वाले दिनों में भारत इस ताज को जरूर पहनेगा।

Related posts

President Election 2022: पीएम मोदी पहुंचे संसद भवन, थोड़ी देर में द्रौपदी मुर्मू करेंगी नामांकन

Rahul

यहां देखिए नीतीश के मंत्रिमंडल की पूरी लिस्ट

Nitin Gupta

सपा-बसपा के बीच लगातार बढ़ रही दूरी: माया बोलीं- चुनाव के बाद से अखिलेश का फोन नहीं आया

bharatkhabar