पांच दिन की बच्ची को गोद में लेकर शहीद पति को अंतिम विदाई देने पहुंची मेजर डोगरा

पांच दिन की बच्ची को गोद में लेकर शहीद पति को अंतिम विदाई देने पहुंची मेजर डोगरा

नई दिल्ली। किसी के घर में अगर मौत हो जाए तो पूरा परिवार टूट जाता है और जिससे मरने वाले का खास रिश्ता होता है वो तो टूट कर बिखर ही जाता है। उसे किसी भा चीज का होश नहीं रहता। लेकिन वायुसेना के शहीद अधिकारी की पत्नी ने पति की मौत पर कुछ ऐसा किया कि सोशल मीडिया पर लोग उनकी तारीफ करते थक नहीं रहे हैं। शहीद की पत्नी ने सेना की वर्दी पहनकर अपनी पांच दिन की बेटी को गोद में लेकर पति को आखिरी सलामी दी। ऐसा कर के उन्होंने न केवल मिसाल कायम की है बल्कि अपने साहस का भी परिचय दिया है।

lady army officer

बता दें कि सोशल मीडिया पर मेजर डोगरा की एक फोटो वायरल हो रही है और उनकी गोद में पांच दिन की बेटी है और तो और वो अपनी फुल यूनिफोर्म में हैं। डोगरा के पति विंग कमांडर डी वत्स की मौत 15 फरवरी को असम के माजुली द्वीप में दो सीटों वाले माइक्रोलाईट विमान के क्रैश होने की वजह से हो गई थी। उनकी इस तस्वीर को कई ट्विटर यूजर्स ने शेयर किया है।

श्वेता नाम की यूजर ने लिखा- मेजर कुमुद डोगरा की बांहों में पांच दिन की बच्ची है और उनके कदम अपने पति विंग कमांडर डी वत्स के पार्थिव शरीर की ओर मार्च कर रहे है। यह साहस का एक दुर्लभ प्रतीक है। आपको सलाम मेजर डोगरा। जय हिंद। बता दें कि भारतीय वायुसेना का चॉपर विमान जिसमें दो पायलट मौजूद थे वह 15 फरवरी को आसाम के माजुली द्वीप में क्रैश हो गया था।

बता दें कि यह माइक्रोलाइट विमान अपनी नियमित उड़ान पर था। टेकऑफ के बाद विमान जोरहाट के करीब क्रैश हो गया। इस मामले में सेना ने कोर्ट ऑफ इन्कवायरी के आदेश जारी कर दिए हैं। पायलट्स ने आपातकालीन लैंडिंग की कोशिश की थी लेकिन उत्तरी क्षेत्र के बालू स्थान पर इसमें आग लग गई। यह बालू स्थान ब्रह्मपुत्र नदी के दरबार चापोरी में है। ऐसा माना जा रहा है कि विमान तकनीकी कारणों से क्रैश हुआ था।