मैं पूरी तरह फिट, 2019 का विश्व कप खेलने के लिए हूं तैयार: धोनी

नई दिल्ली। टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एमएस धोनी ने उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में स्पोट्रस गैलेक्सी का शिलान्यास किया। शिलान्यास करने के बाद धोनी ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि स्कूल में क्रिकेट के साथ-साथ अन्य खेलों की भी ट्रेनिंग दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि एक समय ऐसा भी था जब खिलाड़ियों को बहुत अधिक एक्सपोजर नहीं मिलता था, लेकिन आज एक छोटे से शहर का बच्चा अच्छा प्रदर्शन करता है तो मीडिया उसे हीरो बना देती है। उन्होंने बताया कि अगले साल इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप में वो खेलने के लिए पूरी तरह से फिट हैं। धोनी ने एक सवाल के जवाब में कहा कि अगर मैं फिट नहीं होता तो अबतक कैसे क्रिकेट खेल रहा होता। 

धोनी ने क्रिकेट में फिटनेस को लेकर कहा कि अगर आप फिट हैं तो ये तय है कि आप किसी भी खेल में पारंगत हो जाओगे, जिसके लिए आपको बुहत अधिक समय नहीं लगेगा। उन्होंने कहा कि पहले तो मां-बाप अपने बच्चों को खेलने पर डांटते-फटकारते थे, लेकिन वे उनको लेकर अब खुद मैदान में जा रहे हैं। लखनऊ में आईपीएल मैच खेल जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि आईपीएल में आठ फ्रेंचाइजी टीमें हैं, जो आमतौर पर अपने घर में खेलना पसंद करती है और लखनऊ को अभी तक किसी भी टीम ने अपना होम ग्राउंड नहीं बनाया है, लेकिन इसमें परेशानी वाली कोई बात नहीं है।

धोनी ने कहा कि मेरे ख्याल से यहां आईपीएल की जगह इंटरनेशनल क्रिकेट होनी चाहिए, जो यूपी की क्रिकेट को आगे बढ़ाने में मदद कर सकती है। वैसे भी यूपी में तमाम प्रतिभाशाली खिलाड़ी है, जो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपना लोहा मनवा चुके हैं और यहां से आगे भी इसी तरह के अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी निकलते रहेंगे। नेपाल को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का दर्जा मिलने के सवाल पर धोनी ने कहा कि यह बहुत अच्छी बात है कि भारत का पड़ोसी देश अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेल सकेगा। कुछ समय पूर्व वहां की टीम से मिला था। सभी बहुत मेहनती क्रिकेटर हैं। उनकी सफलता देखकर खुश हूं। नेपाल ही क्यों, अफगानिस्तान ने भी अपने प्रदर्शन से दिग्गज टीमों को प्रभावित किया है।