खाने की जबरन आदत को सुधारने के लिए अपनाएं ये तरीका

खाने की जबरन आदत को सुधारने के लिए अपनाएं ये तरीका

कई बार ऐसा होता है कि आपको भूख नहीं होती लेकिन फिर भी किसी खाद्य पदार्थ को देखकर या उसके बारे में सोचकर आप खुद को उसे खाने से रोक ही नहीं पाते। इसे ही फूड क्रेविंग कहा जाता है। जब व्यक्ति को फूड क्रेविंग होती है तो वह इतनी तीव्र होती है कि जब तक वह उस चीज को खा न लें, तब तक उसे शांति नहीं मिलती। बहुत से लोग मानते हैं कि इस फूड क्रेविंग को कंट्रोल करना संभव नहीं है। जबकि ऐसा नहीं है। आज हम आपको ऐसे कुछ उपाय बता रहे हैं, जिनकी मदद से आप बेहद आसानी से फूड क्रेविंग को नियंत्रित कर सकते हैं−

पीएं पर्याप्त पानी
अगर भोजन करने के बाद भी आपको कुछ खाने की इच्छा हो रही है तो यह फूड क्रेविंग है। इसके पीछे का एक कारण यह भी होता है कि आपके शरीर की पानी की मात्रा पूरी नहीं हो रही। दरअसल, भूख व प्यास दोनों मिलकर दिमाग में कुछ सेंसेशन पैदा करते हैं, जिससे व्यक्ति को हमेशा कुछ न कुछ खाने की इच्छा होती है। इसलिए यह बेहद जरूरी है कि आप पर्याप्त मात्रा में पानी पीएं।

बढ़ाएं प्रोटीन की मात्रा
प्रोटीन सिर्फ मसल्स बिल्डअप करने में ही मदद नहीं करता, बल्कि इसके जरिए आप अत्यधिक फूड क्रेविंगस को भी नियंत्रित कर सकते हैं। जब आप प्रोटीन का पर्याप्त मात्रा में सेवन करते हैं तो पेट अधिक देर तक भरा रहता है, जिससे व्यक्ति को कुछ भी खाने की इच्छा नहीं होती।

तनाव से दूरी
आपने शायद कभी नोटिस किया हो कि जब व्यक्ति किसी तरह के तनाव या डर के साए में होता है तो वह अधिक खाता है। तनाव के कारण जब आपका मूड खराब होता है तो मस्तिष्क शरीर को ऐसी चीजें खाने के संकेत देता है, जिससे व्यक्ति को अच्छा फील हो। यही वजह है कि तनाव में व्यक्ति को फूड क्रेविंग अधिक होती है। इसलिए तनाव को खुद से दूर रखने की कोशिश करें। इसके लिए आप मेडीटेशन से लेकर योग व लाफटर थेरेपी आदि का सहारा ले सकते हैं।

प्रॉपर मील
कुछ लोग मानते हैं कि वजन घटाने या हेल्दी रहने के लिए भोजन कम खाना चाहिए। यह पूरी तरह से मिथ है। दरअसल, जब आप ऐसा करते हैं तो आपको हर समय ही भूख लगती रहती है और आपको अलग−अलग तरह की फूड क्रेविंगस होती है। इसलिए जरूरत है कि आप पोर्शन साइज पर ध्यान दें। एकदम से हैवी भोजन खाने की बजाय थोड़ी−थोड़ी देर में हेल्दी भोजन खाएं। इससे आपका पेट भरा रहेगा और आपको फूड क्रेविंग्स नहीं होंगी।