featured भारत खबर विशेष

आसमान पर पृथ्वी को निगलने वाले सूरज से बड़े ब्लैक होल कैसे बने, खुला रहस्य..

black 1 आसमान पर पृथ्वी को निगलने वाले सूरज से बड़े ब्लैक होल कैसे बने, खुला रहस्य..

आसमान पर बने ब्लैक होल को लेकर गुत्थी सुलझ गई है। जिसके बाद कुछ हद तक ये पता चल गया है कि, आसमान में सूरज से भी बड़े होल कैसे और क्यों बनें। इन ब्लैक बोल्से को लेकर कई वैज्ञानिकों का मानना है कि, इनके अंदर पृथ्वी समा जाएगी। ऐसा कब होगा इस पर वैज्ञानिकों का अलग-अलग मत है।ब्रिटेन के ब्लैकहोल एक्सपर्ट अब इस गुत्थी को सुलझाने के करीब पहुंच गए हैं। इनके पैदा होने को लेकर दो अलग-अलग थिअरी हैं और कार्डिफ यूनिवर्सिटी के ऐस्ट्रोनॉमर्स को अब ऐसे संकेत मिले हैं जिनसे इन दोनों थिअरी के बीच के लिंक को खोजा जा सकता है।

black 2 1 आसमान पर पृथ्वी को निगलने वाले सूरज से बड़े ब्लैक होल कैसे बने, खुला रहस्य..
एक थिअरी कहती है कि, बिग-बैंग के साथ ही ये एसएमबीएच पैदा हुए थे, जिस प्रक्रिया को डायरेक्ट कोलैप्स कहा गया है। इसके मुताबिक तय न्यूनतम आकार के विशाल ब्लैक होल पैदा हुए जिनका भार हमारे सूरज से लाखों गुना ज्यादा था। दूसरी थिअरी के मुताबिक बिग-बैंग के काफी बाद ऐसे ब्लैकहोल से पैदा हुए जो किसी विशाल तारे के मरने से बना हो। हालिक अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि, ये ब्लौक होल कैसे पैदा हुए। यह ब्लैकहोल हमारी पृथ्वी से 1 करोड़ प्रकाशवर्ष दूर एक गैलेक्सी के केंद्र में हैं।

स्टडी की मदद से इस बात का पता लगाया जा सकेगा कि दोनों थिअरी क्या अंतर है। वैज्ञानिकों ने यह खोज चिली की चिलियन ऐंडी की मदद से की। यह टेलिस्कोप ब्रह्मांड के सबसे ठंडे ऑब्जेक्ट्स को ऑब्जर्व करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इससे अब ब्लैक होल के पैदा होने की जानकरी देगा।

https://www.bharatkhabar.com/these-big-celebrities-including-barack-obama-have-a-keen-eye-on-hackers/
वैज्ञानिकों ने नई तकनीक के जरिए ब्लैक होल के आसपास घूमते गैस के बादलों को जूम करके देखा जो सिर्फ 1.5 प्रकाशवर्ष दूर थे। वैज्ञानिकों का मानना है कि लगभग सभी बड़ी गैलेक्सियों के केंद्र में एक ब्लैक होल है। जिसका बहुत जल्द पता लगा लिया जाएगा। इसके साथ ही ये भी पता चल जाएगा कि, ब्लैक होल पृथ्वी को निगल सकते है या नहीं।

Related posts

मिजोरम-मेघालय दौरे पर पहुंचे पीएम मोदी, MYDONER ऐप होगा लॉन्च

Vijay Shrer

ओपी राजभर का तीखा हमला, कहा- किसी से भी कर लेंगे गठबंधन लेकिन BJP से नहीं

Shailendra Singh

बजट: डीजल-पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी बढ़ी, PAN Card नहीं है तो आधार कार्ड से भरें रिटर्न

bharatkhabar