September 23, 2021 11:08 am
Breaking News featured देश

देश में लगातार कोरोना का कहर जारी, नहीं रुक रहे मामलें

कोरोना

दुनियाभर में कोरोना का कहर जारी है। भारत में भी कोरोना वायरस के मामलों में लगातार वृद्धि दर्ज की जा रही है। 63 हज़ार से अधिक कोरोना संक्रमण के मामलें प्रतिदिन सामने आ रहे हैं। जिसकी वजह से देश में कुल मामलों की तादाद 21 लाख 53 हजार से ज्यादा हो चुकी है।  इस तरह बढ़ते मामलों को लेकर देश में हाहाकार मचा हुआ है और यह देश के लिए बड़ा चिंता का विषय बन गया है। जिसकी वजह से देश की व्यवस्था चरमरा गई है। साथ ही लोगों को भी भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। प्रतिदिन बढ़ते मामलों की संख्या को लेकर स्वास्थ्य विभाग भी चिंता जता रहा है। मामलों की रोकथाम के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। बावजूद इसके मामलों में किसी तरह की कमी दिखाई नहीं दे रही है। आपको बता दें कि देश में अभी कोरोना के सक्रिय मामलों की तादात करीब 6 लाख 28 हजार है जबकि 14 लाख 80 हजार मरीज इस घातक संक्रमण से ठीक हो चुके हैं साथ ही इस संक्रमण से मरने वालों की संख्या 43 हज़ार से अधिक हो गई है। मामलों की बढ़ती लगातार संख्या लोगों में एक डर पैदा कर रही है। जिसकी वजह से लोग घरों से बाहर निकलना भी एक चुनौती बन गया हैं। लोगों द्वारा तमाम तरह के नियमों का पालन किया जा रहा है। लंबे लॉकडाउन के दौरान लोग घरों में कैद रहे बावजूद इसके अभी भी मामलों में किसी प्रकार की कमी नहीं दिखाई दे रही है।

देश में जांच की संख्या को बढ़ाया गया

कोरोना मरीज के मामलों की बढ़ती गंभीरता को देखते हुए देश में जगह-जगह पर जांच का दायरा बढ़ा दिया गया है। प्रतिदिन की जा रही जांच की संख्या को बड़े स्तर पर बढ़ाया गया है। साथ ही लोगों को जागरूक भी किया जा रहा है। जरूरी काम होने पर ही लोगों को घरों से बाहर निकलने की अनुमति दी जा रही है। इसी के साथ लोगों से जरूरत होने पर ही घर से बाहर निकलने की अपील की जा रही है महामारी की गंभीरता को देखते हुए लोग एहतियातन तौर पर अपने घरों में छुपे हुए हैं। जरूरत पड़ने पर ही लोग घरों से बाहर निकलना मुनासिब समझ रहे हैं। लोग भीड़भाड़ वाले इलाकों से दूरी बना रहे हैं। साथ ही बाजार में जाने से भी बच रहे हैं। जरूरत का सामान लेने के लिए नियमों का पालन करते हुए लोग घरों से बाहर निकलते हुए दिखाई पड़ते हैं। फिर भी मामलों की सक्रियता इतनी बढ़ गई है कि लगातार भारी संख्या में मरीज सामने आ रहे हैं। आपको बता दें कि एक दिन में रिकॉर्ड 7 लाख से अधिक जांच की जा रही है। आईसीएमआर के अनुसार शनिवार को रिकॉर्ड 7,19,364 नमूनों की जांच की गई जो एक दिन में सर्वाधिक हैं। देश में अब कोविड-19 का पता लगाने के लिए प्रति मिनट 500 नमूनों की जांच की जा रही है और प्रतिदिन जांच क्षमता लगातार बढ़ रही है। देश में अब तक कुल 2 करोड़ 41 लाख 6 हज़ार 535 नमूनों की जांच की जा चुकी है।

मामलों को लेकर महाराष्ट्र में स्थिति गंभीर

कोरोनावायरस के कहर के चलते देश के महाराष्ट्र राज्य में सर्वाधिक सक्रिय मामले सामने आ रहे हैं जहां पर रविवार को 12,248 नए मामले सामने आए हैं जबकि 390 लोगों की बीते 24 घंटों में जान गई है। महाराष्ट्र में मामलों की संख्या लगातार बढ़ती हुई दिखाई दे रही है। जिसके चलते यहां कुल मामले बढ़कर 5,15,332 हो गए हैं जबकि मृतकों की संख्या 17,757 हो गई है। महाराष्ट्र में संक्रमण के कुल मामलों में 1,45,558 एक्टिव केस है जबकि 3,51,710 लोग अब तक संक्रमण से उभर चुके हैं। इस राज्य में सबसे बुरा हाल मुंबई शहर का है जहां संक्रमण के कुल मामले 1,23,397 हो चुके हैं यहां पर मृतकों की संख्या 6,796 है यहां बीते 24 घंटों में संक्रमण के 1066 नए मामले सामने आए हैं जबकि 48 लोगों की जान गई है। मुंबई में अब तक 96,586 लोग इस घातक संक्रमण से उभर चुके हैं जबकि 19,718 एक्टिव केस है।

आग से मरे मरीजों को मुआवजे का ऐलान

जहां एक तरफ कोरोना की मार बुरी तरह लोगों को सता रही है वहीं दूसरी तरफ आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में कोरोना केंद्र में बदले गए होटल में रविवार को अचानक आग लग गई। जिसकी वजह से वहां पर 10 मरीजों की मौत हो गई जबकि इसमें अन्य मरीज घायल हो गए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना पर दुख जताते हुए मृतकों के परिजनों के लिए प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से दो दो लाख रूपए की राशि देने का ऐलान किया है जबकि घायलों को 50 हज़ार की सहायता राशि दी जाएगी। आंध्र प्रदेश सरकार ने हादसे में मारे गए 10 लोगों के परिजनों को 50 – 50 लाख रुपए की राशि देने की घोषणा की है।

Related posts

सोमवार को बंद रहेगा लखनऊ और इलाहाबाद हाईकोर्ट, जानिए क्या है वजह

Aditya Mishra

दीपिका-रणवीर ने क्यों नहीं दी विरुष्का को बधाई….

Vijay Shrer

अब सुरक्षाबल को कोरोना ने घेरा, CRPF के 31 जवान कोरोना संक्रमित

Rani Naqvi