उत्तराखंड में भारी बारिश ने बरपाया कहर,बागेश्वर में पहाड़ टूटने से मलबे में दबी कई गाड़ियां

नई दिल्ली: कुमाऊं में बागेश्वर जिले के कपकोट में मंगलवार की सुबह से हो रही बारिश से पहाड़ टूट गया। इस मलबे में कई वाहन दब गए। कपकोट में कई घरों में बरसात का पानी घुस गया है। सोमवार से बागेश्वर में हो रही बारिश के कारण सरयू नदी भी उफान पर है। इससे लोगों में दहशत का माहौल पैदा हो गया है। वहीं बारिश की वजह से बागेश्वर और पिथौरागढ़ में कई सड़कें बंद पड़ी हैं।

उत्तराखंडः15वें वित्त आयोग के अध्यक्ष एवं सदस्य अक्टूबर में प्रदेश का भ्रमण करेंगे

उधर, गढ़वाल के थराली सहित आस पास के क्षेत्रों में मंगलवार की सुबह हुई जोरदार बारिश से नालों और गधेरों का मलबा सड़क पर आ गया। जिससे थराली देवाल मुख्य मार्ग सहित छह अन्य लिंक मार्ग बंद हो गए हैं। कई जगह चटटानें टूटने से सड़कें क्षतिग्रस्त हो गई हैं। साथ ही तहसील मुख्यालय राड़ीबगड़ और केदारबगड़ में बरसाती नालों से मलबा आने से सड़क बंद हो गई जिसके बाद में पीडब्ल्यूडी की जेसीबी मशीन ने आवागमन चालू किया।

मौसम विभाग ने जारी किया अर्लट

आपको बता दें कि मौसम विभाग ने उत्तराखंड के ज्यादातर क्षेत्रों में 10 और 11 जुलाई को जमकर बारिश होने की आशंका जताई है। मौसम विभाग ने 11 जुलाई तक लगभग पूरे कुमाऊं और गढ़वाल के अधिकांश क्षेत्रों में भारी बारिश की आशंका जताई है। इसको देखते हुए अलर्ट भी जारी किया गया है।