उत्तराखंड में बारिश ने मचाई तबाही, 8 लोगों की हुई मौत, हुआ ये हादसा

नई दिल्ली। उत्तराखंड  में एक बार  फिर बारिश  ने लोगों के ऊपर अपना कहर बरपाया हुआ और तबाही मचानी शुरू कर दी है।  देहरादून  मे  मंगलवार रात 2 बजे से लगातार हो रही बारिश की चपेट में आने से अब तक कुल 8 लोगों की मौत हो चुकी हैं। इसके साथ ही नाचनी में रामगंगा का जल स्तर बढ़ गया जिससे पुल बह गया। इसके साथ ही शास्त्री नगर खाला क्षेत्र में एक मकान का पुश्ता ढहने से उसमें कुछ लोग दब गए हैं।

उत्तराखंड में बारिश ने मचाई तबाही, 8 लोगों की हुई मौत, हुआ ये हादसा

आपको बता दें कि सूचना मिलते ही पुलिस बल आपदा उपकरणों  के साथ तत्काल मौके पर पहुंचे तथा राहत एवं बचाव कार्य शुरू किया। पुलिस रेस्क्यू टीम  द्वारा आपदा उपकरणों की सहायता से मौके से मलबे को हटाकर उसमें दबे 06 लोगों को निकालकर  तत्काल उपचार हेतु दून अस्पताल पहुंचाया गया, जिनमें से 04 लोगों को डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया, शेष दो घायलों का वर्तमान में दून अस्पताल में उपचार चल रहा है। वहीं सहसपुर के छरबा गांव में उफनाई बरसाती नदी (शीतला) की चपेट में आकर एक वृद्ध व्यक्ति तेज बहाव में बह गया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे नदी से बाहर निकाल लिया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। पुलिस ने पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिया|

उत्तराखंड में भारी बारिश ने बरपाया कहर,बागेश्वर में पहाड़ टूटने से मलबे में दबी कई गाड़ियां
मरने वालों की पहचान

मरने वालों की पहचान संतोष साहनी पुत्र रामचंद्र साहनी निवासी शास्त्रीनगर खाला, वसंत विहार देहरादून, उम्र 35 वर्ष, सुलेखा देवी पत्नी संतोष साहनी, उम्र 30 वर्ष, धीरज कुमार पुत्र संतोष साहनी, उम्र 5 वर्ष और नीरज कुमार पुत्र संतोष साहनी, उम्र 3 वर्ष के रूप में हुई है। सभी तारसराय गुड़िया जिला दरभंगा, बिहार के मूल निवासी है। वहीं प्रमोद साहनी पुत्र सखीलाल साहनी, उम्र 35 वर्ष और जगदीश साहनी, उम्र 70 वर्ष घायल हैं। इनका इलाज दून अस्पताल में चल रहा है। गांधी ग्राम संगम विहार में नदी के किनारे बना एक मकान बह गया। परिवार के सदस्य बाल बाल बचे।

मोथरोवाला क्षेत्र में दौड़वाला के पास रिस्पना नदी में एक व्यक्ति का शव पड़ा मिला। सूचना पर थाना नेहरू कॉलोनी से पुलिस बल तत्काल मौके पर पहुंचा। बताया गया कि बुधवार की सुबह डालनवाला क्षेत्र से रिस्पना के तेज बहाव में राजेश पुत्र बलदेव रोड बह गया। रेस्क्यू अभियान चलाकर उसे नदी से निकाला गया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। वहीं रायपुर में नफीस अहमद पुत्र मुस्तफा अहमद निवासी एलआईजी ब्लाक, एमडीडीए कॉलोनी, उम्र 50 वर्ष, रिस्पना नदी के तेज बहाव में बह गया। पुलिस बल द्वारा तलाश हेतु आसपास के क्षेत्र में रेस्क्यू अभियान चलाया गया। नफीस का शव क्लेमेनटाउन क्षेत्र दूधली की नदी में बह कर आ गया। टीम द्वारा शव परिजनों को सौंप दिया गया है।

उत्तराखंड के कई जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, प्रशासन ने जारी की चैतावनी