Breaking News यूपी

कर्मचारी परिषद के समर्थन में आया स्वास्थ्यकर्मियों का ये संगठन

कर्मचारी कर्मचारी परिषद के समर्थन में आया स्वास्थ्यकर्मियों का ये संगठन

लखनऊ। राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के समर्थन में अब लैब टेक्नीशियन एसोसिएशन (संविदा) भी आ गया है। गौतलब है कि कर्मचारी परिषद सभी स्वास्थ्यकर्मियों को 25% प्रोत्साहन राशि एवं किसी भी स्वास्थ्यकर्मी के शहीद होने पर उनके आश्रितों को 50 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दिए जाने की मांग कर रहा है। साथ ही सरकार द्वारा कोविड ड्यूटी के दौरान घोषित भत्ता भी नहीं मिला है। ऐसे में कर्मचारियों में नाराजगी बढ़ रही है। सभी स्वास्थ्यकर्मी 25 मई को काला फीता बांधकर काम करते हुए विरोध जताएंगे।

लैब टेक्नीशियन एसोसिएशन यूपी (संविदा) के अध्यक्ष योगेश उपाध्याय ने कहा कि हम अपनी जान दांव पर लगाकर काम कर रहे हैं। हमारे कई साथियों ने जान भी गंवाई है। लगातार दो साल से हम कोरोना मरीजों की सेवा में लगे हैं। ऐसे में सरकार की जिम्मेदारी है कि हमारा भी ख्याल रखे।

WhatsApp Image 2021 05 23 at 5.22.45 PM कर्मचारी परिषद के समर्थन में आया स्वास्थ्यकर्मियों का ये संगठन
लैब टेक्नीशियन एसोसिएशन यूपी (संविदा) ने दिया समर्थन

योगेश ने बताया कि कोरोना मरीजों की जांच के लिए घर-घर जाकर सैंपल लेने वाले कर्मचारियों को 10 फीसदी अतिरिक्त प्रोत्साहन भत्ता दिए जाने की बात कही गई थी। ये कर्मचारी फिल्ड के साथ-साथ लैब में भी काम करते हैं। लेकिन, अभी तक इन कर्मचारियों को इसका लाभ नहीं मिल पाया है।

योगेश ने बताया कि कोरोना की कठिन परिस्थितियों को देखते हुए कर्मचारियों ने अवकाश और रोस्टर की भी परवाही नहीं की। इतना ही नहीं कई साथियों ने जान भी गंवा दी। उन्होंने बताया कि हमारे कई साथियों के कामों की प्रशंसा खुद मुख्यमंत्री ने की है, लेकिन उन्हें सिवाय आश्वासन के अब तक कुछ नहीं मिला है।

अध्यक्ष योगेश ने कहा कि हम राज्य कर्मचारी सयुक्त परिषद के आह्वान का समर्थन करते हैं। 25 मई से हमारे सभी साथी काला फीता बांधकर काम करेंगे। उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की है कि मांगों को पूरा किया जाए।

Related posts

संगीता बेनीवाल ने सर्किट हाउस में की जनसुनवाई, साथ ही किया अस्पताल का औचक निरीक्षण

Aman Sharma

पुलिस ने नहीं होने दिया दलाईलामा का जन्मदिन समारोह

bharatkhabar

यूपी में चक्रवाती तूफान के प्रभाव की आशंका, सीएम योगी ने दिए निर्देश

Shailendra Singh