September 27, 2022 1:38 am
featured लाइफस्टाइल हेल्थ

शराब है खराब, जानिए कितनी मात्रा में करना चाहिए शराब का सेवन

sharab 2 शराब है खराब, जानिए कितनी मात्रा में करना चाहिए शराब का सेवन
लिवर का फिट रहना बेहद जरूरी है। शरीक के महत्वपूर्ण अंगों में से एक लिवर भी है। क्योंकि इसका बिना इंसान का जिंदा रहना नामुमकिन है। इसलिए जरूरी है कि आप अपने लीवर को स्वस्थ रखें। क्योंकि आजकल के युवा ज्यादा एल्कोहल लेने के चलते अपने लीवर के साथ खिलवाड़ करते हैं। जोकि बेहद ही खतरनाक साबित हो सकता है।
शराब से लिवर संबंधी बीमारियों की शुरूआत हो सकती है। जिसके चलते लिवर में सूजन या इसके डैमेज होने का खतरा बना रहता है। ज्यादा शराब पीने से लिवर में स्कार्स पड़ जाते हैं जिसे सिरोसिस के रूप में जाना जाता है। इसलिए ये बेहद जरूरी है कि आपको पता हो कि कितना मात्रा में शराब का सेवन करना चाहिए।
कितनी पीनी चाहिए शराब ?
जानकार बताते हैं कि हर रोज 40 ग्राम या 4 यूनिट से ज्यादा शराब पीने वाले को फैटी लीवर की बीमारी हो सकती है। ये करीब 12 प्रतिशत एबीवी के 2 मीडियम ग्लास वाइन के बराबर और 4 प्रतिशत एबीवी रेगुलर स्ट्रेंथ के 2 पिंट्स से कम होगी। इसलिए आप 4 यूनिट से कम ही शराब का सेवन करें।
लिवर पर शराब का असर
एल्कोहल यानि शराब एक जहरीला पदार्थ है। जब हम इसे पीते हैं तो हमारा लिवर इसको शरीर से बाहर निकालने का काम करता है। लिवर में पाए जाने वाले एंजाइम एल्कोहल को तोड़ने का काम करते हैं। ऐसे में लीवर को ज्यादा काम करना पड़ता है। हालांकि लंबे समय तक ऐसा करने से लिवर पर असर पड़ने लगता है। इससे फैटी लिवर की समस्या शुरु होती है। लिवर पर सूजन आने लगती है और स्कार्स बनने लगते हैं।
लिवर की खास बात ये है कि इसमें रिजेनरेट होने की क्षमता होती है। लेकिन कभी-कभी एल्कोहल को शरीर से बाहर निकालने की प्रक्रिया में इसके कुछ सेल्स डेड हो जाते हैं। लंबे समय तक इसका सेवन करने से लिवर डैमेज होने लगता है। और अगर आप शराब पीना बिल्कुल बंद कर देते हैं तो इससे लिवर में सुधार आने लगता है।
लिवर के लिए टेस्ट
अगर आप ड्रिंक करते हैं तो आपको समय-समय पर लिवर का टेस्ट करवाते रहना चाहिए। लिवर के टेस्ट के लिए आप कंप्लीट ब्लड काउंट (CBC), लिवर फंक्शन टेस्ट जिसमें लिवर एंजाइम टेस्ट शामिल हो, एक एब्डोमिनल कंप्यूटेड टोमोग्राफी सीटी स्कैन (an abdominal computed tomography CT scan), एब्डोमिनल अल्ट्रासाउंड और लिवर बायोप्सी करा सकते हैं।

Related posts

Live Update : बिहार में गिरी एनडीए सरकार, इस्तीफा देने राजभवन पहुंचे नीतीश

Rahul

मध्यप्रदेशःवृहद परियोजना नियंत्रण मण्डल ने 1925 करोड़ की निविदाओं को स्वीकृत मिली

mahesh yadav

डिग्री विवाद में स्मृति ईरानी को कोर्ट से राहत

Rahul srivastava