featured जम्मू - कश्मीर देश राज्य

Gulf Investment Summit: जम्‍मू-कश्‍मीर के करीब 7 लाख लोगों को मिलेगा रोजगार, समिट में 27 हजार करोड़ का मिला इन्वेस्टमेंट

Screenshot 2022 03 23 10.45.42 AM Gulf Investment Summit: जम्‍मू-कश्‍मीर के करीब 7 लाख लोगों को मिलेगा रोजगार, समिट में 27 हजार करोड़ का मिला इन्वेस्टमेंट

Gulf Investment Summit: जम्मू-कश्मीर में निवेश के अवसर तलाशने के लिए श्रीनगर में गल्फ निवेश समिट का आयोजन किया गया। इस समिट में उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने हिस्सा लिया।

खाड़ी निवेश शिखर सम्मेलन में भाग लेने के बाद एलजी मनोज सिन्हा और खाड़ी देशों के सीईओ के प्रतिनिधियों ने घाटी के कारीगरों के साथ बातचीत की। खाड़ी देशों के प्रतिनिधिमंडल के एक सदस्य ने कश्मीर घाटी में रोजगार के अवसरों की प्रशंसा की और कहा कि यह जगह “धरती पर स्वर्ग समान है”।

70,000 करोड़ का प्रपोजल
अमीरात इंटरनेशनल इन्वेस्टमेंट के प्रमुख अब्दुल्ला अल शैबानी ने कहा कि हम जम्मू-कश्मीर की अपनी यात्रा से प्रभावित हैं, यहां के लोगों में काफी संभावनाएं हैं। वहीं, जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि मेरा अनुमान है कि जब निवेश धरातल पर उतरेगा तो कम से कम 6-7 लाख लोगों को रोजगार मिलेगा। हमारे पास 70,000 करोड़ का प्रपोजल है, हम 27,000 करोड़ क्लियर कर चुके हैं।

सीईओ, उद्यमी और स्टार्टअप प्रतिनिधि हुए शामिल
राज्यपाल ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में खाड़ी देशों की नामी कंपनियों के सीईओ, उद्यमियों और स्टार्टअप प्रतिनिधियों और आयातक-निर्यातकों का यह दौरा जम्मू-कश्मीर और खाड़ी देशों के बीच व्यापार-वाणिज्य के क्षेत्र में सहयोग की संभावनाओं के प्रति उद्योग जगत के विश्वास को दर्शाता है।

उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने दुबई एक्सपो में दिया था निमंत्रण
बता दें कि खाड़ी देशों का 36 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में निवेश के अवसर तलाशने के लिए यहां पहुंचा है। दरअसलस, जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने जनवरी में हुए दुबई एक्सपो में निमंत्रण दिया था, जिसपर यह प्रतिनिधिमंडल यहां पहुंचा है।

अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी। अधिकारियों के मुताबिक, इस प्रतिनिधिमंडल में रीयल एस्टेट, आतिथ्य, दूरसंचार, आयात-निर्यात और अन्य क्षेत्रों के शीर्ष व्यवसायी शामिल हैं और शारजाह में शासक परिवार का सदस्य भी उसका हिस्सा है।

ये भी पढ़ें  :-

Russia-Ukraine War: युद्ध में रूस के 15,300 सैनिक मारे और 509 रूसी टैंक तबाह, यूक्रेन ने किया दावा

Related posts

अभद्र टिप्पणी किए जाने पर अलका लांबा ने की युवक को थप्पड़ मारने की कोशिश

Rani Naqvi

हल्द्वानी: अवैध निर्माण पर कसेगा शिकंजा, प्राधिकरण ने जारी किए सख्त आदेश

pratiyush chaubey

सर्वे में आया सामने, अगर आज चुनाव हुए तो रजनीकांत की पार्टी जीतेगी 33 सीटें

Breaking News