featured यूपी

फतेहपुर में लाठी-डंडों से लैस गुलाबी गैंग ने घेरा एसपी ऑफिस, जानिए वजह

फतेहपुर में लाठी-डंडों से लैस गुलाबी गैंग ने घेरा एसपी ऑफिस, जानिए वजह

फतेहपुर: गुलाबी गैंग (लोकतांत्रिक) की अध्यक्ष हेमलता पटेल के नेतृत्व में कई महिलाओं ने लाठी-डंडों से लैस होकर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करते हुए एसपी ऑफिस का घेराव किया। महिलाओं ने पुलिस पर सही से एक्शन न लेने और भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाते हुए जमकर नारेबाजी की।

पुलिस अधीक्षक कार्यालय परिसर में यह सब होता रहा और जिले की लोकल इंटेलिजेंस यूनिट (एलआइयू) को पुलिस अधीक्षक कार्यालय का घेराव होने की भनक तक नहीं लग पायी। मामले पर पुलिस अधीक्षक सतपाल आंतिल ने एलआइयू का बचाव करते हुए महिलाओं की मांगों पर त्वरित कार्रवाई का आश्वासन दिया।

उत्पीड़न और भ्रष्टाचार के खिलाफ नारेबाजी

सोमवार को गुलाबी गैंग (लोकतांत्रिक) की अध्यक्ष हेमलता पटेल के नेतृत्व में 150 महिला सदस्यों और पीड़ित महिलाओं के साथ उनके परिजन एसपी ऑफिस पहुंचे थे। यहां पर पुलिस की कार्यशैली से असंतुष्ट महिलाओं ने महिला उत्पीड़न और भ्रष्टाचार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इससे मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों के हाथ-पैर फूल गए। आक्रोशित महिलाओं को संभालने के लिए पुलिस को खासी मशक्कत करनी पड़ी। इसके बाद अध्यक्ष हेमलता पटेल के साथ संगठन का प्रतिनिधि मंडल एवं पीड़ित महिलाएं पुलिस अधीक्षक सतपाल आंतिल से मिलकर उन्हें ज्ञापन दिया। जिस पर पुलिस अधीक्षक ने संबंधित प्रभारियों को फोन कर ठोस और तथ्यात्मक कार्रवाई करने के आदेश दिए।

अध्यक्ष हेमलता पटेल ने बताया कि, ललौली थाना क्षेत्र के सुजानपुर गांव से तीन माह पहले 14 वर्षीय किशोरी को 25 वर्षीय युवक अगवा कर ले गया है। पुलिस ने मामले पर मुकदमा तो नामजद दर्ज कर लिया, लेकिन किशोरी की बरामदगी अभी तक नहीं कर पायी है। ऐसे में किशोरी के माता-पिता न्याय के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं।

बड़े आंदोलन की चेतावनी

हेमलता पटेल ने कहा कि, ललौली पुलिस भ्रष्टाचार की सारी हदें पार कर रही है, मामला चाहे बालू खनन का हो या फिर महिला सुरक्षा का। हर मामले में ललौली पुलिस पूरी तरह से फेल है। यदि पुलिस समय से किशोरी की बरामदगी नहीं करती है, तो संगठन बड़ा आंदोलन करेगा, जिसकी सारी जिम्मेदारी शासन-प्रशासन की होगी।

इस दौरान अध्यक्ष हेमलता पटेल के साथ सरला सिंह, राजरानी, प्रीती, सुभाषिनी, जासीमुन, उर्मिला, रेहान, शबाना, सम्मी, नफीस, नरेश, सन्नो, कमला, आरती, संजना, प्रियंका, रेखा, सुधा आदि लोग मौजूद रहीं।

“महिलाओं के खिलाफ होने वाले अत्याचारों के खिलाफ हमारा संगठन आवाज उठाता रहेगा। ललौली इंस्पेक्टर अपहृत हुई बच्ची को अभी तक बरामद नहीं कर पाए हैं। इसके साथ ही कई मामलों को लेकर पुलिस अधीक्षक से वार्ता हुई है। उन्होंने कठोर और तत्काल कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

हेमलता पटेल, अध्यक्ष, गुलाबी गैंग (लोकतंत्र)

“पुलिस से संबंधित कोई भी व्यक्ति आकर लोकतांत्रिक तरीके से अपनी बात रख सकता है। 25, 30 लोग एक साथ आकर भी अपनी समस्या बता सकते हैं। घेराव प्रदर्शन यह सभी लोकतांत्रिक तरीके के अंतर्गत ही आते हैं। एलआइयू के फेल होने जैसी कोई बात नहीं है।”

सतपाल आंतिल, पुलिस अधीक्षक, फतेहपुर

Related posts

सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर और परगट सिंह कांग्रेस में होंगे शामिल

shipra saxena

असम में बाढ के हालात का जायजा लेने पहुंचे गृह मंत्री राजनाथ सिंह

rituraj

किसान आंदोलन की गूंज रही विदेशों तक, अमेरिका सांसदो ने उठाया किसानों का मुद्दा

Aman Sharma