BharatKhabar.Com

ग्रीन कॉरिडोर के निर्माण की प्रक्रिया तेज, इसी साल शुरू हो सकता है काम

WhatsApp Image 2021 02 21 at 11.31.31 AM ग्रीन कॉरिडोर के निर्माण की प्रक्रिया तेज, इसी साल शुरू हो सकता है काम

लखनऊ: ग्रीन कॉरिडोर लखनऊ स्थित गोमती नदी के किनारे बनाने की योजना है। इस पूरे मामले में तैयारियां काफी तेजी से चल रही है। खबरों के अनुसार इसी वर्ष निर्माण कार्य भी शुरू हो सकता है।

फोरलेन सड़क के साथ ग्रीन कॉरिडोर

लखनऊ को बेहतर और पर्यावरण के अनुकूल बनाने के लिए प्रशासन अलग-अलग इंतजाम करता रहता है। गोमती नदी के किनारे भी इसी से जुड़ा डेवलपमेंट का काम जल्द शुरू किया जाएगा। ग्रीन कॉरिडोर के साथ-साथ गोमती नदी के किनारे फोरलेन सड़क भी बनाई जाएगी।

डीपीआर बनाने के दिए आदेश

इस परियोजना को पूरा करने के लिए मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने प्लान तैयार करने को कहा। संबंधित विभाग को पहले डीपीआर( डीटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट) तैयार करना होगा। इसके बाद आगे की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। डीपीआर बनाने में यूएमटीसी संस्था का भी सहयोग लेने की बात कही गई है।

केंद्र सरकार से भी मदद लेने की उम्मीद

ग्रीन कॉरिडोर का काम पूरा करने के लिए आर्थिक मदद केंद्र सरकार से भी ली जा सकती है। इसके लिए अलग अलग विभाग मदद कर सकते हैं। इस सिलसिले में शनिवार को बैठक हुई, इसमें जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश और मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार मौजूद रहे।

पहले इस क्षेत्र में होगा काम

इस योजना की शुरुआत आईआईएम रोड और शहीद पथ के मध्य शुरू हो सकती है। जहां पहले 4 लेन का काम पूरा किया जाएगा। वहीं दूसरे चरण में शहीद पथ से किसान पथ के मध्य कोरिडोर की निर्माण प्रक्रिया शुरू होगी।

इन दोनों चरणों में 25.2 किलोमीटर का बंधा निर्माण, तीन उपरीगामी सेतु, 8.45 किलोमीटर पर बंधे का चौड़ीकरण किया जाएगा। इस पूरे काम के लिए अनुमानित लागत 2603.5 करोड रुपए की हो सकती है।

Exit mobile version