featured यूपी

GOOD NEWS: गोरखपुर में जाम के झाम से मिलेगी मुक्ति, शहर में नहीं घुस पाएंगी बसें

GOOD NEWS: गोरखपुर में जाम के झाम से मिलेगी मुक्ति, शहर में नहीं घुस पाएंगी बसें

गोरखपुर: बाबा गोरखनाथ की धरती को जाम के झाम से मुक्ति दिलाने के लिए प्रशासन प्रयासरत है। अब गोरखपुर शहर में घुसने वाली बसों को शहर के बाहर ही रोक दिया जाएगा। इससे गोरखपुरवासियों को कुछ हद तक शहर में लगने वाले भीषण जाम से मुक्ति मिल जाएगी।

देवरिया और कुशीनगर की ओर से आने वाली बसों को मोतीराम बस अड्डे के लिए ली गई चार एकड़ जमीन के पास रोक लिया जाएगा।

जमीनें कर ली गईं चिन्हित

जिला प्रशासन ने इसके लिए जमीनें भी चिन्हित कर ली हैं। मोतीराम अड्डा और महेसरा के पास जमीन देख ली गई है। अधिकारियों ने जमीन का मुआयना कर लिया है और जल्द इस योजना को अमलीजामा पहनाया इसके साथ ही वाराणसी, प्रयागराज और आजमगढ़ की ओर आने वाली बसों को नौसढ़ बस स्टेशन के पास रोक दिया जाएगा।

यहां से यात्री ऑटो से आगे का रास्ता पूरा कर सकेंगे। इसके शहर का ट्रैफिक लोड कम हो जाएगा। गोरखपुर औद्योगिक विकास प्राधिकरण जाम से मुक्ति दिलाने के लिए विभिन्न योजनाओं पर काम कर रहा है। कालेसर के पास भी एक बस टर्मिनट बनाने पर विचार किया जा रहा है।

बसों से लगता है सबसे ज्यादा जाम

बता दें कि पूर्वांचल का केंद्र होने के कारण गोरखपुर के ऊपर सबसे ज्यादा ट्रैफिक का लोड रहता है। इसमें कोढ़ में खाज विभिन्न जिलों से आने वाली बसें साबित होती हैं। बसों को उल्टा-सीधा खड़ा करके यात्रियों को भरा जाता है, इससे शहर का यातायात बाधित होता है। गौरतलब है कि गोरखपुर में जाम लगना कोई नई बात नहीं है।

जाम से परेशान हैं गोरखपुरवासी

गोरखपुर जिले के शहरवासी पिछले कई सालों से जाम की समस्या से परेशान हैं। जाम लगने से न केवल टाइम बर्बाद होता है बल्कि शहर के वायु प्रदूषण में भी वृद्धि होती है।

इससे लोगों के स्वास्थ्य पर भी बुरा असर होता है, वहीं आफिस पहुंचने में भी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।फिलहाल इस मामले में देखना अहम होगा कि प्रशासन की इस योजना से गोरखपुर के लोगों को जाम से कितनी राहत मिलती है, क्योंकि इससे पहले भी कई योजनाएं बनीं, लेकिन जाम की समस्या से शहरवासियों को निजात नहीं मिल सकी।

Related posts

सुप्रीम कोर्ट ने सहारा की एम्बी वैली को जब्त करने का दिया आदेश

Rahul srivastava

रणजीत सिंह हत्याकांड : गुरमीत राम रहीम सहित चार अन्य को हुई उम्र कैद

Neetu Rajbhar

चुनाव आयोग के दरबार में होगा गुजरात राज्यसभा चुनाव का फैसला

piyush shukla