Breaking News featured देश यूपी राज्य वीडियो

शाहजहांपुर से गायब हुई बच्ची गंभीर हालत में सिविल अस्पताल में भर्ती

WhatsApp Image 2021 02 23 at 12.54.55 PM शाहजहांपुर से गायब हुई बच्ची गंभीर हालत में सिविल अस्पताल में भर्ती

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में आज एक दिल दहलाने वाली घटना हुई। इसमें दो बच्चियां जिनका अपहरण हो गया था। जिनमें से एक बच्ची की लाश मिली तो वहीं दूसरी बच्ची भी गंभीर हालत में जली हुई पाई गई। इसके बाद बेहतर इलाज के लिए शाहजहांपुर से बच्ची को लखनऊ के सिविल अस्पताल रेफेर कराया गया है।

ये है मामला

शाहजहांपुर के कांटी थाना क्षेत्र में दो बच्चियों का अपहरण किया गया। इसके बाद उनमें से एक की हत्या कर दी गई। जबकि दूसरी बच्ची की हालत काफी नाजुक है और अभी उसे सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कांटी थाना क्षेत्र के रहने वाले शख्स की 5 साल की बेटी गांव के एक मदरसे में पढ़ती थी। सोमवार को दोपहर में वह अपनी चचेरी बहन के साथ मदरसे में पढ़ने के लिए निकली थी। शाम को जब दोनों घर वापस नहीं आई। तो घर वालों ने उनकी खोजबीन शुरू की, काफी देर तक पता नहीं चलने के बाद दोनों बच्चियों के बारे में परिवार वालों ने रिश्तेदारों से भी पता करना शुरू किया। लेकिन कहीं से कोई जवाब नहीं मिला। इसके बाद परिवार वालों ने पूरे मामले की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने भी मामले की जांच करना शुरू कर दी। लेकिन कुछ ही देर बाद गांव से करीब ढाई किलो मीटर की दूरी पर एक खेत में 5 साल की मासूम का शव मिला। उसके चेहरे पर धारदार हथियार से मारे जाने के निशान थे।दूसरी बच्ची भी काफी गंभीर हालत में जली हुई मिली है। जिसके बाद दूसरी बच्ची को शाहजहांपुर के मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया गया था

हालत गंभीर होने पर बच्ची को भेजा गया लखनऊ

दूसरी बच्ची को अपराधियों के द्वारा जला दिया गया है। इसकी वजह से उसकी हालत काफी गंभीर बनी हुई है। आनन-फानन में शाहजहांपुर मेडिकल कॉलेज से उसे राजधानी लखनऊ के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां पर उसका इलाज चिकित्सकों के द्वारा किया जा रहा है। चिकित्सकों से बातचीत में उन्होंने बताया की बच्ची का शरीर काफी ज्यादा चल चुका है। ऐसे में बेहतर से बेहतर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं देने का प्रयास सिविल अस्पताल की तरफ से किया जा रहा है।

पिता ने लगाईं न्याय की गुहार

इन बच्चों के पिता से जब हमने बातचीत करने का प्रयास किया तो नम आंखों से पिता ने न्याय की गुहार लगाई। अपनी बेटी को खो चुके पिता से जब हमने पूछा कि आखिर अब भी शासन-प्रशासन से क्या चाहते हैं? तो उन्होंने कहा कि हमारी बच्ची का बेहतर तरीके से इलाज हो जाए और इसके साथ साथ दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले।

Related posts

भारत-फ्रांस की सामरिक साझेदारी भारत की विदेश नीति का एक हिस्सा: उपराष्ट्रपति

Trinath Mishra

बारामूला में सुरक्षाबलों ने किया एक आतंकी को ढेर, दूसरे के छुपे होने की आशंका

Rani Naqvi

बलरामपुर: भतीजे ने चाचा का शव नदी में फेंका, पुलिस ने किया खुलासा

Shailendra Singh