गिरिराज सिंह बोले आजम, मैँ रामपुर आकर बताउंगा की बजरंग बली कौन हैं?

गिरिराज सिंह बोले आजम, मैँ रामपुर आकर बताउंगा की बजरंग बली कौन हैं?

पटना। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता और बेगूसराय से लोकसभा चुनाव लड़ रहे गिरिराज सिंह ने आजम खान के बजरंग अली वाले बयान पर कहा है बेगूसराय का चुनाव बीत जाने के बाद रामपुर आकर बताएंगे कि बजरंग बली क्या हैं. समाजवादी पार्टी (सपा) के नेता आजम खान ने शुक्रवार को एक जनसभा में बजरंग अली के नारे लगवाए थे जिसके बाद यह विवाद और बढ़ गया है. पूर्व में यह मामला यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी उठा चुके हैं जिसमें उन्होंने कहा था कि कांग्रेस और सपा गठबंधन के लिए अली हैं लेकिन उनके लिए बजरंग बली हैं.
गिरिराज सिंह ने शनिवार को एक ट्वीट में लिखा, ‘आजम खान ने पहले प्रधानमंत्री मोदी जी को गाली दिया अब हमारे भगवान को गाली दे रहा…आजम खान, बेगूसराय का चुनाव खत्म होने के बाद रामपुर आ के हम बताएंगे कि बजरंग बली क्या हैं.
आजम खान ने रामपुर में अली और बजरंग बली का मुद्दा उठाते हुए बजरंगबली की जगह ‘बजरंग अली’ का नारा लगवाया. साथ ही उन्होंने पीएम मोदी पर पाकिस्तान का एजेंट होने का आरोप भी लगाया. एक आमसभा को संबोधित करते हुए आजम खान ने कहा कि पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने बयान दिया है कि अगर पीएम मोदी फिर सत्ता में आते हैं तो दोनों देशों के बीच विवाद सुलझ जाएगा. आजम खान ने कहा कि मोदी-इमरान की ये कैसी मिलीभगत है?
रामपुर से सपा उम्मीदवार ने आगे पीएम मोदी को आड़े हाथों लेते हुए कहा, “आप कल नवाज शरीफ के दोस्त थे और आज इमरान खान आपके दोबारा प्रधानमंत्री बनने का इंतजार कर रहा है. बताओ लोगों पाकिस्तान का एजेंट मैं हूं या पाकिस्तान का एजेंट…”.
गौरतलब है कि जैसे जैसे चुनाव नजदीक आ रहे हैं, नेताओं ने आरोप प्रत्यारोप का दौर तेज कर दिया है. सबसे पहले यूपी के मुख्यमंत्री ने बजरंग बली की जाति बताई जिस पर हंगामा हुआ. बाद में उन्होंने बजरंग बली को बीजेपी से और अली को कांग्रेस और सपा गठबंधन से जोड़ा जिस पर विपक्षी दल चुनाव आयोग गए और शिकायत की. शुक्रवार को सपा नेता आजम खान ने इस विवाद को नई हवा दी और एक जनसभा में बजरंग अली का नारा लगवाया. इस पर गिरिराज सिंह ने पलटवार किया और कहा कि चुनाव बाद वे रामपुर में आजम खान को बताएंगे कि बजरंग बली कौन हैं.