पुराने पीठ दर्द को आयुर्वेदिक इलाज के जरिए करें दूर

नई दिल्ली।  सर्द हवाओं ने लोगों के घरों में अपनी दस्तक को देना शुरू कर दिया है और धीरे धीरे लोगों को अपनी चपेट में लेना शुरू कर दिया है। बदलते मौसम के साथ ही बहुत सारी समस्‍याएं हमें परेशान करने लगती हैं लेकिन आमतौर पर एक समस्‍या, जो हमें सबसे ज्‍यादा परेशान करती हैं वह पुराने दर्द की समस्‍या है। जी हां पुराने चोट से तो हम उभर जाते हैं लेकिन सर्द मौसम के आते ही चोट से होने वाला दर्द हमें परेशान करने लगता है। कभी-कभी चोट पूरी तरह ठीक नहीं हो पाती या नर्वस सिस्टम के डैमेज होने पर हमारा ध्‍यान इस ओर नहीं जाता।

आयुर्वेदिक इलाज
आयुर्वेदिक इलाज

ऐसी स्थिति में सर्दियां आने के बाद हमें पुराने दर्द का सामना करना पड़ता है। पुराने दर्द के पीछे अक्सर किसी भी वजह से लगी चोट या चोट वाली जगह पर दोबारा चोट के कारण भी दर्द होने लगता है। अक्‍सर लोग इस दर्द से बचने के लिए पेनकिलर का सहारा लेते हैं। जो दर्द को कुछ पल के लिए तो दूर कर देता है, लेकिन कुछ देर बाद दर्द फिर से उबर जाता है।

आयुर्वेदिक इलाज

अगर सर्द मौसम के आते ही पुराना दर्द आपको भी परेशान करने लगता है तो आपको दर्द को दूर करने के लिए पेनकिलर का सहारा लेने की जरूरत नहीं हैं, क्‍योंकि एक आसान घरेलू उपाय से आप इस दर्द को छूमंतर कर सकते हैं। पेनकिलर और डॉक्टर की सलाह के अलावा बहुत से एक ऐसा प्राकृतिक तरीके मौजूद हैं जो आपके पुराने दर्द में राहत पहुंचा सकते हैं। इस आयुर्वेदिक नुस्खे का इस्तेमाल कर आप अपने दर्द से राहत पा सकते हैं। अगर यकीन नहीं आ रहा तो आइए हमारे साथ इस आयुर्वेद उपाय के बारे में जानें।

आयुर्वेदिक उपाय के लिए सामग्री

सफेद नमक – 10 चम्मच अच्छा सफ़ेद नमक
जैतून या सूरजमुखी का कच्चा तेल – 20 चम्मच

बनाने की विधि

एक कांच का बर्तन लेकर नमक और तेल को मिला लें।
फिर बर्तन को अच्‍छी तरह से बंद करके 2 दिन के लिए रख दें।
दो दिन बाद एक हलके रंग की औषधि तैयार हो जायेगी।

ये भी पढ़ें:-

पेट की समस्या से लेकर कैंसर जैसी हर बीमारी को दूर करता है ये आयुर्वेदिक चाय, जाने फायदें