January 27, 2022 1:13 am
featured खेल

पूर्व क्रिकेटर सचिन ने बताए कोहली के खास गुण जो बाकी खिलाड़ियों से उन्हें अलग बनाते हैं

कोहली और तेंदूलकर पूर्व क्रिकेटर सचिन ने बताए कोहली के खास गुण जो बाकी खिलाड़ियों से उन्हें अलग बनाते हैं

भारत के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने भारत को मौजूदा कप्तान विराट कोहली के बारे में कुछ खास गुण बताए हैं। तेंदुलकर ने कहा कि कोहली में अपनी कमजोरी को पहचानने की क्षमता है।और कमजोरी को सुधार के लिए लगातार मेहनत करना, इस क्रिकेटर को लंबे समय तक विश्व क्रिकेट में सर्वोच्च पर रखेगी।

 

कोहली और तेंदूलकर पूर्व क्रिकेटर सचिन ने बताए कोहली के खास गुण जो बाकी खिलाड़ियों से उन्हें अलग बनाते हैं
पूर्व क्रिकेटर सचिन ने बताए कोहली के खास गुण जो बाकी खिलाड़ियों से उन्हें अलग बनाते हैं

टेस्ट मैचों में सर्वाधिक 15921 रनों का रिकॉर्ड रखने वाले क्रिकेटर तेंदुलकर हैं

बता दें कि टेस्ट मैचों में सर्वाधिक 15921 रनों का रिकॉर्ड रखने वाले क्रिकेटर तेंदुलकर हैं।उन्होंने कहा कि कोहली के बारे में सबसे अच्छी चीज है कि वह सुधार के लिए प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने कहा कि मैं हमेशा उसकी (कोहली) की आंखों में भूख और आग देखता हूं। उसके बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि जैसे ही उसे लगता है कि किसी विभाग में काम करने की जरूरत है। वह तुरंत नेट पर जाकर उन चीजों पर काम करता हैं।

महिला क्रिकेटर हरमनप्रीत की बढ़ी मुश्किलें, गलत निकली स्नातक की डिग्री

कोहली 4 साल पहले इंग्लैंड दौरे पर असफल हुए थे

कोहली ने अब तक 66 टेस्ट में 53.40 की औसत से 5554 रन हांसिल किए हैं।हलांकि कोहली 4 साल पहले इंग्लैंड दौरे पर असफल हुए थे। और पांच टेस्ट में 13.40 की औसत से सिर्फ 134 रन बना सके थे। तेंदुलकर ने कोहली को सलाह दी कि वह मैच से पहले तैयारी के अपने तरीके पर बरकरार रहें।और फॉर्म में आ रहे उतार-चढ़ाव को लेकर परेशान नहीं हों।

पूर्व क्रिकेटर विनोद कांबली और उनकी पत्नी एंड्रिया पर मारपीट मामले में मुकदमा हुआ दर्ज

रवि शास्त्री ने कहा कि कोहली के जज्बे और कड़ी मेहनत का असर पूरी टीम पर दिखता है

वहीं कोच रवि शास्त्री ने कहा कि कोहली के जज्बे और कड़ी मेहनत का असर पूरी टीम पर दिखता है। टीम पर कोहली के प्रभाव के बारे में पूछने पर शास्त्री ने कहा कि उसके काम के प्रति जिम्मेदारी की कोई बराबरी नहीं है।

कोच ने कहा कि कोहली ड्रेसिंग रूम में जो जज्बा लेकर आता है वह प्रतिस्पर्धी के रूप में मैच खेलना चाहता है

बता दें कि कोच ने कहा कि कोहली ड्रेसिंग रूम में जो जज्बा लेकर आता है वह प्रतिस्पर्धी के रूप में मैच खेलना चाहता है।वह प्रतिस्पर्धा पेश करना चाहता है। यहां तक कोच न कहा कि कोहली की लगन और प्रतिस्पर्धा की चाहत बीमारी जैसी है। कोच ने कहा कि कोहली की राह पर युवा समेत सभी लोग चलना चाहते हैं।

महेश कुमार यदुवंशी

Related posts

 क्या खतरे में है महाराष्ट्र सरकार, देर शाम हुई ‘मातोश्री में गुप्त बैठक

Shubham Gupta

हाफिज सईद के दिल्ली में चल रहे आतंकी फंडिंग के रैकेट का एनआइए ने पर्दाफाश किया

Rani Naqvi

योगी सरकार ने प्रियंका गांधी के बस सम्बन्धी प्रस्ताव को किया स्वीकार

Rani Naqvi