राजस्थान

वनकर्मियों की मशक्कत से पकड़ा गया आदमखोर बघेरा

jaipur वनकर्मियों की मशक्कत से पकड़ा गया आदमखोर बघेरा

जोधपुर। थानागाजी क्षेत्र में चार माह से आंतक मचाने वाले आदमखोर बघेरे को आखिर वनकर्मियों की टीम ने बडी मशक्कत कर शिकंजे में ले लिया। वन प्रशासन ने बुधवार रात्रि रायपुर भाल के जंगल से इस खूंखार बघेरे को पिंजेरे में कैद कर गुरुवार को सुबह जयपुर चिड़ियाघर के लिए रवाना कर दिया।

jaipur वनकर्मियों की मशक्कत से पकड़ा गया आदमखोर बघेरा

उल्लेखनीय है कि इस आदमखोर बघेरे ने रायपुर भाल एवं काला लांका जंगल में दो महिलाओं को मौत के घाट उतार दिया था। इस बघेरे के पकड़े जाने से जहां जंगल प्रशासन ने राहत की सांस ली है, वहीं ग्रामीणों में भी भय कम होने लगा है।

बीमार बघेरा भी भेजा जयपुर सरिस्का जंगल से जुड़े टहला के नारायणी धाम जंगल क्षेत्र में वन प्रशासन को एक बीमार बघेरा भी मिला। जंगल प्रशासन ने इस बीमार बघेरे को पकड़कर उपचार के लिए जयपुर भिजवाया है। वन प्रशासन के अधिकारियों के अनुसार बीमार बघेरा काफी कमजोर एवं थका हुआ दिखाई दिया। उसे चलने-फिरने में भी परेशानी हो रही थी। उसकी कमजोरी के चलते वह अन्य बाघ या बघेरे का भी शिकार बन सकता था।

Related posts

किशोरी से नाबालिग ने किया दुराचार, पुलिस ने लिया हिरासत में

bharatkhabar

एक करोड़ 11 लाख बच्चों को पिलाई जाएगी पोलियो की खुराक

Anuradha Singh

राजस्थान में कांग्रेस के मुख्यमंत्री चेहरे को लेकर घमासान,अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच बढा विवाद

rituraj