September 26, 2022 2:57 pm
featured Breaking News देश

मनमोहन ने मोदी से ज्यादा विदेश यात्रा की थी : शाह

amit shah 1 मनमोहन ने मोदी से ज्यादा विदेश यात्रा की थी : शाह

पणजी। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने ढाई वर्ष के कार्यकाल के दौरान अपने पूर्ववर्ती मनमोहन सिंह की तुलना में कम विदेश यात्राएं की हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री विदेश यात्रा के दौरान ठीक से बोल नहीं पाते थे। शाह ने सिंह की चुटकी लेते हुए उन्हें मौनी बाबा कहा। उन्होंने यहां तक कहा कि मोदी के अधीन भारत को अंतर्राष्ट्रीय पटल पर एक गौरवपूर्ण स्थान मिला है।

amit shah

शाह ने गोवा भारतीय जनता पार्टी के बूथ कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, “कमल नाथ ने एक बयान दिया था कि मोदी जी अक्सर विदेश जाते हैं। कमल नाथ को सच्चाई पता नहीं है। मनमोहन सिंह और मोदी के ढाई वर्षो के शासन को देखा जाए तो सिंह मोदी की तुलना में अधिक बार विदेश गए थे। कमल नाथ को यह पता नहीं है। उनकी गलती नहीं है, दरअसल हमारे पूर्व प्रधानमंत्री मौनी बाबा थे, आप मौनी बाबा को जानते हैं?”

शाह ने पूर्व संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार की कार्यप्रणाली का मजाक उड़ाते हुए कहा कि सिंह के अंतर्राष्ट्रीय दौरे ठंढे होते थे और वह अपने भाषणों में ठीक से बोल नहीं पाते थे। शाह ने कहा, “जब वह विदेश जाते थे, तो किसी को पता ही नहीं चल पाता था। न तो भारत में और न ही विदेश में किसी को उनके विदेश दौरों के बारे में पता चलता था। वह अंग्रेजी में लिखे दो पेज कागज रखते थे। वह उन दोनों पन्नों पर लिखी बातें पढ़ते थे और भारत लौट आते थे। कभी-कभी पóो इधर-उधर हो जाते थे और वह इंडोनेशिया में मलेशिया के बारे में पढ़ जाते थे और मलेशिया में इंडोनेशिया के बारे में।”

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मोदी ने महज ढाई साल में अंतर्राष्ट्रीय पटल पर भारत के बारे में धारणा बदलने में सफलता हासिल की है। उन्होंने कहा, “अब जब नरेंद्र मोदी भारत के प्रधानमंत्री बने हैं, जहां भी वह गए, चाहे वह नेपाल, भूटान, श्रीलंका, चीन हो या अमेरिका, इंग्लैंड, फ्रांस हर जगह हजारों लोग उनका स्वागत करने के लिए तैयार मिले। यही कारण है कि मोदी जब विदेश यात्रा करते हैं तो लोगों को पता चलता है।” शाह ने कहा, “नरेंद्र भाई ने ढाई वर्ष में भारत को अंतर्राष्ट्रीय पटल पर एक गौरवपूर्ण स्थान दिलाया है। कमल नाथ जी यदि आप इसे महसूस नहीं करते हैं, तो कोई बात नहीं। जब प्रधानमंत्री ने संयुक्त राष्ट्र को हिंदी में संबोधित किया, भारतीयों का सीना गर्व से चौड़ा हो गया।”

 

Related posts

बाबरी विध्वंस केसः सुप्रीम कोर्ट में गुरुवार तक के लिए टली सुनवाई

Rahul srivastava

16 साल छोटी डॉ. गुरप्रीत के साथ शादी कर CM भगवंत मान बने दूल्हा , केजरीवाल ने पिता और राघव चड्ढा ने निभाईं भाई की रस्में

Rahul

हेली और ट्रंप के रिश्ते पर उठे सवाल, हेली ने बताया अपमानजनक

Breaking News