Breaking News featured बिहार

बिहार में बाढ़ का कहर जारी, आज नीतीश कुमार करेंगे हवाई सर्वे

BiharFlood बिहार में बाढ़ का कहर जारी, आज नीतीश कुमार करेंगे हवाई सर्वे

पटना। बिहार में बाढ़ अपना रौद्र रूप दिखा रही है। उत्तरी बिहार और सीमांचल इलाकों की हालत गम्भीर बनी हुई है। किशनगंज, अररिया, पूर्णिया, सुपौल, मधेपुरा, कटिहार, पूर्वी व पश्चिमी चंपारण, मधुबनी, सीतामढ़ी में बाढ़ का कहर जारी है। कई जगह पर ट्रेनों के ट्रैक डूब गए हैं। 17 से अधिक ट्रेनें रद्द हो गई हैं। इन ट्रेनों को डायवर्ट कर दिया गया है। कई राष्ट्रीय राजमार्ग और राज्य मार्गों के डूबने और टूटने के कारण सड़क यातायात बाधित कर दिया गया है। प्रदेश में बाढ़ के हालत के बारे में सीएम नीतीश कुमार ने केन्द्र सरकार के गृहमंत्री राजनाथ सिंह और वित्तमंत्री अरूण जेटली को हालत की पूरी जानकारी दी है। इसके साथ ही इस हालात से राज्य को निपटने के लिए सहायता करने की गुहार भी की है।

BiharFlood बिहार में बाढ़ का कहर जारी, आज नीतीश कुमार करेंगे हवाई सर्वे

सीएम नीतीश कुमार ने केन्द्र सरकार से सेना के साथ एनडीआरएफ की 10 टुकडियां भेजने के साथ सेना के हेलीकॉप्टर को बचाव कार्य में लगाने का आग्रह किया है। इस साथ ही उन्होने संबंधित विभाग के मंत्रियों के साथ वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर राहत कार्यों के साथ हालत की समीक्षा की है। इसके साथ ही सीएम ने संबंधित जिला प्रभारियों और प्रधान सचिवों को बाढ़ के हालात का जायजा लेने के लिए संबंधित जिलों का जायजा लेने के लिए भेजा है। उधर केन्द्र सरकार ने भी बिहार सरकार को मदद देते हुए एनडीआरएप के करीब 320 जवानों को राहत कार्यों के लिए भेजा है। इस बारे में राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर लिखा भी है। सीएम नीतीश कुमार ने सभी राहत टीमों को बाढ़ग्रस्त इलाकों में तैनात कर दिया है। इसके साथ ही सभी वरिष्ठ अधिकारियों को इलाकों का हवाई दौरा करने के साथ वहां कैम्प करने के निर्देश जारी किए हैं। इसके साथ ही सीएम खुद राहत कार्यों की मॉनीटरिंग कर रहे हैं।

सूबे में आई भीषण बाढ़ के बाद आज सीएम नीतीश कुमार बिहार के सीमांचल जिलों का हवाई दौरा करेंगे। बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों पूर्णिया, कटिहार, अररिया और किशनगंज में चलाये जा रहे राहत और बचाव कार्यों का जायजा लेंगे। मुख्यमंत्री के साथ मुख्य सचिव अंजनी कुमार और प्रधान सचिव जल संसाधन अरुण कुमार सिंह भी रहेंगे। इसके पहले बैठक में राज्य के जल संसाधन मंत्री राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह, ऊर्जा मंत्री विजेंद्र प्रसाद यादव, मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह, जल संसाधन विभाग के प्रधान सचिव अरुण कुमार सिंह, गृह विभाग के प्रधान सचिव आमिर सुबहानी, आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत, सीएम के प्रधान सचिव चंचल कुमार, सचिव अतीश चंद्रा समेत अन्य अधिकारियों के साथ सीएम नीतीश कुमार ने बाढ़ के हालातों पर विस्तार से चर्चा कर राहत और बचाव कार्यों के लिए किए जा रहे कामों का भी जायजा लिया है।

Related posts

गमों और दुखों को दूसरा नाम थीं मीना कुमारी, बर्थ डे स्पेशल..

Rozy Ali

14 साल बाद गुलबर्ग सोसाइटी दंगा मामले में 24 दोषी करार

bharatkhabar

यूपी के बाद अब दिल्ली की बारी, सात अवैध बूचड़खाने सील

Rahul srivastava