featured दुनिया

US Firing: अमेरिका में गोलीबारी, सिख समुदाय के चार लोगों की मौत

america US Firing: अमेरिका में गोलीबारी, सिख समुदाय के चार लोगों की मौत

अमेरिका के इंडियाना राज्य में फेडएक्स कंपनी के एक परिसर में गोलीबारी की घटना सामने आई है। गोलीबारी से परिसर में हड़कंप मच गया।

इस फायरिंग में सिख समुदाय के चार व्यक्तियों समते 8 लोगों की मौत हो गई है। जबकि घटना में कई घायल भी हुए हैं। समुदाय के नेताओं ने यह जानकारी दी।

पुलिस ने बंदूकधारी की पहचान इंडियाना के 19 वर्षीय ब्रेंडन स्कॉट होल के रूप में की गई है जिसने इंडियानापोलिस में स्थित फेडएक्स कंपनी के परिसर में बृहस्पतिवार देर रात गोलीबारी करने के बाद कथित तौर पर खुद को गोली मार ली।

गुरिंदर सिंह खालसा ने जताया दुख

सिख समुदाय के नेता गुरिंदर सिंह खालसा ने फेडएक्स परिसर के कर्मचारियों के परिजनों से मुलाकात करने के बाद कहा, “यह बेहद दुखद है। घटना से सिख समुदाय आहत है.” शुक्रवार देर रात, मेरियन काउंटी कोरोनर कार्यालय और इंडियानापोलिस मेट्रोपोलिटन पुलिस विभाग (आईएमपीडी) ने मृतकों के नाम का खुलासा किया। मृतकों में अमरजीत जोहल (66), जसविंदर कौर (64), अमरजीत (48) और जसविंदर सिंह (68) शामिल हैं।

हमलावर ने खुद को भी मारी गोली

बताया जा रहा है कि घटनास्थल पर पुलिस के आने से पहले हमलावर ने खुद को गोली मार ली। फेडएक्स ने इसकी पुष्टि की है कि उक्त हमलावर इंडियानापोलिस में कंपनी का पूर्व कर्मचारी था.।

गुरिंदर सिंह खालसा ने कहा कि समुदाय के नेता अधिकारियों के संपर्क में हैं। उन्होंने कहा, “9/11 के बाद से सिख समुदाय ने बहुत कुछ झेला है। अब वह समय आ गया है जब इस प्रकार की गोलीबारी की घटनाओं को रोकने के लिए कड़े कदम उठाए जाएं।

बाइडन और हैरिस ने जताया दुख

अमेरिका का राष्ट्रपति जो बाइडन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने घटना पर दुख जाते हुए शोक व्यक्त किया है। बाइडन ने एक कहा, “होमलैंड सिक्योरिटी की टीम द्वारा उपराष्ट्रपति हैरिस और मुझे, इंडियानापोलिस में फेडएक्स परिसर में हुई गोलीबारी की घटना की जानकारी दी गई है जहां रात के अंधेरे में अकेले बंदूकधारी ने आठ लोगों की जान ले ली और कई लोगों को घायल कर दिया।”

उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने संवाददाताओं से कहा, “हमारे देश में ऐसे परिवार हैं जो हिंसा के कारण अपने परिजनों को खो चुके हैं। बेशक इस हिंसा का अंत होना चाहिए। हम उन परिवारों के प्रति चिंतित हैं जिन्होंने अपने प्रियजनों को खोया है।”

Related posts

राहुल गांधी ने बेरोजगारी, किसानों की समस्या को लेकर पीएम मोदी पर साधा निशाना

Rani Naqvi

रुड़की: अवैध तरीके से हो रहा भवन का निर्माण, सपा नेता राजा त्यागी ने दी तोड़ने की चेतावनी

pratiyush chaubey

बारिश के बाद भी नहीं मिली दिल्ली-एनसीआर वालों को प्रदूषण से राहत

Rani Naqvi