गाजियाबाद स्टेशन पर शताब्दी एक्सप्रेस में लगी आग, जानिए कैसे पाया गया आग पर काबू

गाजियाबाद। दिल्ली से लखनऊ जाने वाले शताब्दी एक्सप्रेस में गाजियाबाद रेलवे स्टेशन में अचानक आग लग गई। आग लगते ही स्टेशन पर हड़कंप मच गया।

डेढ़ घंटे देर से रवाना हुई शताब्दी एक्सप्रेस

इसके बाद रेलवे प्रशासन ने मामले की सूचना फायर ब्रिगेड को दी। मौके पर पहुंची दमकल की टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। वहीं, इसके बाद आग को बुझाकर करीब डेढ़ घंटे की देरी से शताब्दी ट्रेन को लखनऊ के लिए रवाना किया गया। इस दौरान गाजियाबाद स्टेशन पर लोगों की भारी भीड़ जमा रही। राहत की बात ये रही कि आग से कोई जनहानि नहीं हुई।

दमकल की छह गाड़ियों ने पाया आग पर काबू

बता दें कि गाजियाबाद स्टेशन पर सुबह सात बजे ये आग लगी थी। घटना की जानकारी देते हुए फायर ब्रिगेड के अधिकारी ने बताया कि उनको जैसे ही आग की सूचना मिली, तत्काल दमकल की छह गाड़ियों को आग बुझाने के लिए रवाना किया गया।

उन्होंने कहा कि ये आग ट्रेन की सबसे पिछली बोगी के जनरेटर यान में लगी थी। उन्होंने बताया कि आग से ट्रेन के दरवाजे खुल नहीं रहे थे जिन्हें तोड़कर आग बुझाई गई है। वहीं रेलवे प्रशासन ने कहा कि शताब्दी एक्सप्रेस के जनरेटर यान में कैसे आग लगी, इसका पता नहीं लग सका है। जांच में ही इस बात का खुलासा हो सकेगा।

उल्टी दिशा में दौड़ पड़ी थी पूर्णागिरी एक्सप्रेस

गौरतलब है कि इससे पहले भी दिल्ली से टनकपुर जा रही पूर्णागिरी एक्सप्रेस उल्टी दौड़ पड़ी थी। जिसने भी इस दृश्य देखा था वो हैरत में पड़ गया था। ट्रेन अपने गंतव्य में जाने के बजाये उल्टी दिशा में दौड़ी जा रही थी।

इसके बाद ट्रेन के लोको पायलट और गार्ड ने इसकी सूचना कंट्रोल रूम को दी थी। जिसके बाद बमुश्किल ट्रेन को रोका जा सका था। ट्रेन में ऐसा क्यों हुआ था इसका भी पता अभी नहीं चल सका है।

विदित हो कि अभी हाल ही में दिल्ली से लखनऊ को चलने वाली लखनऊ मेल में भी बम की सूचना मिली थी जिसे गाजियाबाद स्टेशन पर रोककर ट्रेन की सघन तलाशी ली गई थी। इसके बाद बम न मिलने पर ट्रेन को लखनऊ के लिए रवाना किया गया था।

 

 

 

झांसी रेलवे स्टेशन का नाम बदलने की तैयारी में सरकार, जानिए क्या होगा परिवर्तन

Previous article

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में थम नहीं रहा छात्रों का प्रदर्शन, आखिर क्यों नाराज हैं छात्र

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured