Untitled 36 मुरादाबाद में पांच कोरोना संक्रमित मरीज़ों पर एफआईआर
लखनऊ:उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इसको लेकर के स्वास्थ्य विभाग तमाम तरह की स्वास्थ्य बेहतर की जा रही है। लेकिन इसी बीच कोरोना संक्रमित मरीज मिल जाने पर स्वास्थ विभाग द्वारा इन मरीजों पर एफआईआर दर्ज कराई गई।
ग़लत जानकारी दर्ज़ कराने पर हुई एफआईआर
उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ने के बाद स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना जांच के समय दी गई, जानकारी को जांचने के लिए यह आदेश दिया गया है कि जो भी कोरोना संदिग्ध यहां अपनी जांच कराने आ रहे हैं। उन सभी के नंबरों पर मिस कॉल देकर यह सुनिश्चित किया जाए कि वह नंबर सही है अथवा नहीं इसी कड़ी में बीते दिन ये 5 मरीज अपनी कोरोना जांच कराने आए थे।
इसके बाद इन पांचों ही लोगों ने अपनी सही जानकारी कोरोना टेस्ट कराने के बाद नहीं दी। कोरोना की रिपोर्ट आने पर यह  पांचों  कोरोना संक्रमित पाए गए। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग को इन मरीजों को ढूंढने में काफी मशक्कत करनी पड़ी।  जिसके बाद इसी को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने इन 5 लोगों के खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कराया है।
जिम्मेदार बोले-
इस पूरे मामले पर जब हमने मुरादाबाद जिले के चिकित्सा अधिकारी से बातचीत करी तो उन्होंने बताया कि, प्रदेश भर में देश भर में कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। इसी कड़ी में मुरादाबाद में भी कोरोना मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। इस पर काबू करने की हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में कुछ लोगों के द्वारा गलत जानकारी देकर कोरोना के संक्रमण को बढ़ाने का काम किया जा रहा था। इसके बाद इन सभी पर  महामारी अधिनियम एक्ट के तहत एफआइआर कराई गई है।

पंचायत चुनाव: पंचायत चुनाव के लिए एक बार फिर थ्री नाट थ्री  रायफलें मालखाने से आएंगी बाहर

Previous article

कानपुर में मनाया गया ऐतिहासिक हटिया होली मेला, जानिए क्या है इसका इतिहास

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.