हज सब्सिडी खत्म करना मतलब गरीबों को उनके रब से दूर करना: साधु

बरनाला। केंद्र सरकार द्वारा हज सब्सिडी खत्म करने को पंजाब सरकार में मंत्री साधु सिंह धर्मसोत ने गलत बताया है। उन्होंने कहा कि हज सब्सिडी खत्म करना गरीबो को उनके रब से दूर करना है। बरनाला में एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए साधु ने कहा कि पीएम मोदी ने हज यात्रा पर सब्सिडी बंद करके गरीबों को उनके रब से दूर करने का काम किया है,जबकि सीएम अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में श्री गुरु गोबिंद सिंह जी के प्रकाश उत्सव पर प्रदेश से रेलगाड़ियों को श्री पटना साहिब भेजा गया था ताकि श्रद्धालु गुरु को नमन कर सकें। उन्होंने कहा कि जब पहले से ही सब्सिडी दी जा रही है तो इसे बंद करना गलत है।  

 

मंत्री ने कहा कि वन विभाग की 31000 एकड़ जमीन पर प्रदेश के बड़े अमीर लोगों ने अवैध कब्जे कर रखे है और अलग-अलग कोर्ट में 21000 केस चल रहे है, जिन्हें जल्द ही खाली करवा लिया जाएगा। इसी के साथ उन्होंने प्रेस वार्ता में कॉलेजों के डमी एडमिशन को लेकर भी अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि कॉलेजो ने डमी एडमिशन करके सरकार को चूना लगाने का प्रयास किया है क्योंकि इनके ऑडिट हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि इनकी जांच चल रही है और इसको लेकर जल्द ही आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किए जाएंगे।  जब तक बच्चों ने कॉलेज में पढ़ाई की है उतनी ही देर की पेमेंट की जाएगी।

उन्होंने कहा कि तपा कांग्रेस के सिटी अध्यक्ष नरेंदर निंदी की दुकान से अवैध शराब बरामद होने के मामले की जांच के संबंध में उन्होंने एसएसपी हरजीत सिंह को आदेश दिए हैं कि केस की जांच निष्पक्ष होनी चाहिए। अगर वह दोषी हैं तो उन पर कठोर कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा था कि दो माह में प्रदेश से नशा खत्म कर देंगे व उन्होंने कर दिया है। इस अवसर पर कांग्रेस के जिला अध्यक्ष मक्खन शर्मा, राजसी सचिव गुरजीत बराड़, सिटी अध्यक्ष मनीश कुमार काका, जिला उपाध्यक्ष हरदेव सिंह बाजवा, कैशियर हरविंदर चाहल, एडीसी अरविंदपाल सिंह संधू, एसएसपी हरजीत सिंह के अलावा अन्य उपस्थित थे।