farmers किसानों की चेतावनी के बाद पुलिस अलर्ट, कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिये कई टीमें गठित

कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन आज 16 दिन में प्रवेश कर चुका है. वहीं सरकार को पिघलता न देख किसान अब अपने आंदोलन को ओर भी तेज करने के लिये तैयार है. किसानों की ओर से सरकार को चेतावनी दी गई है.

किसानों ने बीते दिन सिंघु बॉर्डर पर बैठक की. बैठक में फैसला लिया गया कि पूरे भारत में अब रेलवे ट्रैक पर प्रदर्शन शुरू किया जाएगा.

किसानों की चेतावनी
किसानों ने बैठक के बाद कहा कि अगर केंद्र सरकार हमारी 15 में से 12 मांगों पर सहमत है तो इसका मतलब है कि कानून सही नहीं हैं. किसान तीनों कानूनों को रद्द करने की मांग कर रहे हैं. किसानों ने ऐलान किया है कि वो दिल्ली-जयपुर हाईवे को जाम करेंगे. इसे लेकर हरियाणा पुलिस अलर्ट हो गई है.

किसानों की चेतावनी के बाद पुलिस अलर्ट
किसानों द्वारा जयपुर हाईवे एनएच-48 ब्लॉक करने के ऐलान के बाद भारी पुलिस बल की तैनाती की जा रही है. 2 हजार से अधिक पुलिस कर्मी एनएच-48 पर मोर्चा संभालेंगे. किसानों के साथ विभिन्न संगठनों द्वारा 12 दिसंबर को किए गए आंदोलन तेज करने के आह्वाहन पर जिला प्रशासन और पुलिस व्यवस्था मुस्तैद रहेगी.
गुरुग्राम-दिल्ली बॉर्डर पर सुरक्षा व्यवस्था को सुनिश्चित करने के लिए तमाम तरह की एडवाइजरी और 2 हज़ार पुलिस कर्मियों की तैनाती की गई है.

भाजपा के काफिले पर हमले के बाद दो दिवसीय दौरे पर बंगाल जाएंगे अमित शाह, राज्यपाल से मांगी रिपोर्ट

Previous article

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने किया इलेक्ट्रानिक बसों के ट्रायल का शुभारंभ, वित्तीय वर्ष में 30 बसें चलाने का प्रयास

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.