WhatsApp Image 2021 01 29 at 1.22.03 PM Farmers Protest: मुजफ्फरनगर में महापंचायत के लिए मंच तैयार, मौके पर भारी पुलिस बल तैनात

नई दिल्ली। गुरुवार देर रात गाजिपुर बाॅर्डर पर हाई वाॅलटेज ड्रामा हुआ। जब उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने धरना खत्म कराने के आदेश दिए तो प्रशासन ने धरनास्थल पर फोर्स तैनात कर दी और धरनस्थल खाली करने को कहा गया लेकिन देर रात बाजी पलटती दीखी और अब गेंद लगभग फिर किसानों के पाले में आ गई है। उधर मुजफ्फरनगर में भारतीय किसान यूनियन ने महापंचायत बुलाई है। महापंचायत के लिए जीआईसी के मैदान में तैयारियां शुरू हो गई है। मैदान में सुबह ही भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

 

बता दें कि प्रशासन और भारतीय किसान यूनियन के बीच संभावित टकराव टल गया है। प्रशासन ने किसान पंचायत की इजाजत दे दी है। वहीं सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। यातायात सुचारू रहे इसके लिए रूट में फेरबदल किया गया है।

 

WhatsApp Image 2021 01 29 at 1.22.03 PM 1 Farmers Protest: मुजफ्फरनगर में महापंचायत के लिए मंच तैयार, मौके पर भारी पुलिस बल तैनात
एसएसपी अभिषेक यादव ने बताया कि महापंचायत के दौरान शहर के महावीर चौक से सर्कुलर रोड होते हुए सुजडू चुंगी तक का मार्ग पूरी तरह बंद रहेगा। मेरठ की ओर से आने वाले सभी वाहन हाईवे से होते हुए वाया भोपा बाईपास से शहर में प्रवेश करेंगे। वहीं, शामली और  बड़ौत की ओर से आने वाले सभी वाहन भी पीनना-वहलना बाईपास होते हुए हाईवे और वहां से भोपा बाईपास होकर शहर में प्रवेश करेंगे। यहीं से होकर जाएंगे। किसी भी वाहन को वहलना चौक से सुजडू चुंगी होते हुए सर्कुलर रोड से होकर शहर में घुसने की इजाजत नहीं होगी। किसानों के सभी वाहनों के लिए यहीं मार्ग आरक्षित किया गया है। महापंचायत में पहुंचने वाले सभी किसानों व अन्य लोगों के वाहन वहलना चौक से सुजडू चुंगी और वहां से सर्कुलर रोड होते हुए महावीर चौक स्थित महापंचायत स्थल पर पहुंचेंगे और वहीं पर पार्क होंगे।

 

WhatsApp Image 2021 01 29 at 1.22.03 PM 2 Farmers Protest: मुजफ्फरनगर में महापंचायत के लिए मंच तैयार, मौके पर भारी पुलिस बल तैनात

वहीं देर रात बुलाई गई पंचायत में भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने शुक्रवार को सुबह 11 बजे मुजफ्फरनगर के राजकीय इंटर कॉलेज के मैदान में महापंचायत करने की घोषणा की। कहा कि अब किसान रुकने वाला नहीं है। यदि गाजीपुर बॉर्डर पर किसी भी किसान के साथ कोई घटना होती है तो इसके बाद के हालात की जिम्मेदार केंद्र और राज्य सरकार होगी।

 

उधर, सरधना, जानी, सरूरपुर थाना क्षेत्रों के अलग-अलग गांवों से किसान ट्रैक्टर से गाजीपुर बॉर्डर पर पहुंचने की तैयारी में हैं। गंग नहर पटरी मार्ग पर अलग-अलग स्थानों पर पुलिस की ड्यूटी लगाई गई है। लेकिन यह निर्देश दिए गए हैं कि किसानों के जाते हुए वीडियोग्राफी कराई जाए और उन पर नजर रखी जाए। जिन गांवों में किसान एकत्र हो रहे हैं उन पर भी पुलिस व खुफिया विभाग नजर रखे हैं।

 

फरवरी से बंद होगा ‘द कपिल शर्मा शो’, जानें क्या है वजह

Previous article

पत्नी की बोल्ड तस्वीरें देख पति को आया गुस्सा, पहले पत्नी को मारी 14 गोलियां फिर खुद की आत्महत्या

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.