September 20, 2021 10:01 pm
featured यूपी

भाजपा पर बढ़ा किसानों का विश्वास : स्वतंत्रदेव सिंह

सपा सरकार में हुई किसानों की दुर्गति

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने गुरूवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में राज्य की भाजपा सरकार द्वारा गांव, गरीब, किसान के लिए किये गए कार्यों की वजह से भाजपा पर किसानोें का विश्वास और भरोसा मजबूत हुआ है। इसीलिए विपक्षी दलों में बौखलाहट है।

उन्होंने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि पूर्ववर्ती सपा सरकार में हुई किसानों की दुर्गति किसी से छुपी नहीं है। सपा सरकार के दौरान किस तरह सरकारी खरीद केन्द्रों पर अन्नदाता को उसकी उपज से होने वाले लाभ को बिचैलिये लूट लेते थे।
स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि विपक्ष के अनर्गल आरोपों और झूठ का सच जनता समझ चुकी है।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा भाजपा के कार्यकर्ता राजनीति में जनता की सेवा और राष्ट्रवादी सोच के साथ गांव, गरीब, किसान के बीच रहकर उनसे संपर्क और संवाद करते हुए समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति के जीवन मे खुशहाली लाने के लिए कार्य कर रहे है। लेकिन बंद कमरों में बैठकर प्राइवेट लिमिटेड कंपनी की तरह दल चलाने वाले लोग चुनाव पास आते ही किसान हितैषी होने के दावे करते है, लोगों में झूठ व भ्रम फैलाकर बरगलाने को कोशिश करते है। लेकिन इन दलो के नेता यह नही बताते की जब पूरा देश कोरोना की वैश्विक आपदा से जूझ रहा था तब ये कहा थे?

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने भाजपा सरकार में किसानों के हितों में किए गए कार्यो का जिक्र करते हुए कहा कि प्रदेश में 45 लाख गन्ना किसानों को 1 लाख 40 हजार करोड़ से अधिक गन्ना मूल्य का भुगतान किया गया। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में 2.48 करोड़ किसानों को 32, 500 करोड़ दिए गए। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत किसानों को 3 लाख 92 हजार करोड़ फसली ऋण का भुगतान किया गया। प्रदेश में भाजपा सरकार बनते ही 86 लाख किसानों का 36 हजार करोड़ रुपये ऋण माफ किया गया। वही रमाला पिपराइच मुंडेरवा चीनी मिलों सहित 20 अन्य चीनी मिलों का आधुनिकरण एवं विस्तार किया गया। मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना में पट्टेदार बटाईदारो को भी लाभ मिला। निराश्रित गोवंश आश्रय स्थलों में 5,86,793 गोवंश संरक्षित गोवंश रखने पर प्रति गोवंश प्रतिमाह 900 की सहायता की व्यवस्था की गई। प्रदेश में 3.77 लाख हेक्टेयर अतिरिक्त सिंचाई क्षमता में बढ़ोतरी हुई है ।

Related posts

कश्मीर की राजनीतिक समस्या का प्रशासनिक समाधान नहीं : उमर

bharatkhabar

केंद्रीय खाद्य प्रसंस्‍करण उद्योग मंत्री ने गुजरात के पहले मेगा फूड पार्क का उद्धाटन किया

mahesh yadav

रियो पैराओलंपिक में देंवेन्द्र ने जीता गोल्ड, अपना ही विश्व रिकार्ड तोड़ा

shipra saxena