WhatsApp Image 2021 01 27 at 12.07.11 PM 3 टैक्टर रैली: हिंसा के बाद बैकफुट पर आए किसान नेता ने मांगी माफी, बोले- हम शर्मिंदा
टैक्टर रैली के दौरान हुई ंिहंसा, फाइल फोटो

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस पर देश की राजधानी में किस तरह कानून का मजाक बनाया गया यह पूरे देश ने देखा। जब राजपथ पर पूरी दुनिया भारत की ताकत को सलाम कर रही थी, जब राजधानी के आसमान में राफेल का शोर दुनिया के सामने भारत की ताकत को दर्ज कर रहा था उसी समस राजपथ से कुछ ही दूर कानून के रखवालों पर टैक्टर चढ़ाया जा रहा था। टैक्टर परेड में हुई हिंसा को लेकर किसान का आंदोलन लगातार बैकफुट पर आ रहा है। इसी बीच बड़ी जानकारी यह मिल रही है कि गुरुवार को किसान नेता युद्धवीर सिंह ने हिंसा को लेकर दिल्ली पुलिस से माफी मांगी और कहा कि वो इसके कारण काफी शर्मिंदा हैं। किसान नेता युद्धवीर सिंह ने एक निजी चैनल पर चर्चा के दौरान कहा कि गणतंत्र दिवस के दिन जो हुआ, वो शर्मनाक हुआ और हम शर्मिंदा भी हैं। कोई भी आंदोलन तभी सफल होता है, जब दोनों ओर से सहयोग हो। युद्धवीर सिंह ने बताया कि कि मैं गाजीपुर बॉर्डर के पास था, जो उपद्रवी वहां घुसे उसमें हमारे लोग शामिल नहीं थे।

 

आपको बता दें कि इससे पहले संयुक्त किसान मोर्चा की प्रेस कॉन्फ्रेंस में शिव कुमार कक्का ने भी कहा था कि किसान आंदोलन में ट्रैक्टर परेड के दौरान कुछ उपद्रवी घुस आए थे, जिनपर नजर रखनी चाहिए थी। लेकिन किसान संगठनों ने उस मोर्चे पर चूक हुई है।

 

ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा के बाद ही किसान संगठनों ने अब एक फरवरी को निकलने वाले संसद मार्च को रद्द कर दिया है, जबकि 30 जनवरी को उपवास रखने की बात कही है। दिल्ली पुलिस हिंसा को लेकर लगातार एक्शन ले रही है और अबतक दर्जनों एफआईआर दर्ज की जा चुकी हैं।

मार्केट में आज लाॅन्च होगी Renault Kiger, जानें क्या हैं इसकी कीमत और शानदार फीचर्स

Previous article

लाइव सेशन में अकेले वैक्सीन लगवाकर आए पति की पत्नी ने लगा दी क्लास, वीडियो वायरल

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.