KP IPL में मुंबई इंडियंस के लिये विनिंग शॉट लगाने वाले क्रुणाल पंड्या को एयरपोर्ट पर रोका गया, ये थी वजह
क्रुणाल पंड्या को एयरपोर्ट पर रोका गया

राजस्व खुफिया निदेशालय ने मुंबई इंडियंस के ऑलराउंडर क्रुणाल पंड्या को गुरुवार को मुंबई हवाई अड्डे पर रोक लिया गया. वो कथित तौर पर अपने साथ अघोषित कीमती सामान लाने की कोशिश कर रहे थे.
इसमें हीरे जड़ित घड़ियां और अन्य कीमती सामान शामिल हैं. बता दें कि 10 नवंबर की रात मुंबई इंडियंस ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2020 का संयुक्त अरब अमीरात में खिताब जीता था. खिताबी मुकाबले में विनिंग शॉट क्रुणाल पंड्या के बल्ले से निकला था.
जानकारी के मुताबिक, DRI के अधिकारियों को क्रुणाल पंड्या के बारे में खुफिया सूचना मिला थी. इस आधार पर 29 साल के क्रुणाल पंड्या को मुंबई एयरपोर्ट पर ही रोक लिया गया.
IPL 2020 में मुंबई इंडियंस के साथ खिताब जीतकर लौटे हार्दिक पंड्या के बड़े भाई क्रुणाल पंड्या को मुंबई एयरपोर्ट पर रोका गया. मुंबई इंडियंस के ऑलराउंडर क्रुणाल पंड्या को लेकर अब DRI ने बयान जारी किया है. DRI ने बताया कि क्रुणाल पंड्या के पास महंगी और लक्जरी घड़ियां मिली थीं. ऐसे में मामला कस्टम विभाग को सौंप दिया गया था.
क्रुणाल पंड्या के पास कस्टम को Omega और Ambular Piguet की लाखों की चार लक्जरी घड़ियां मिलीं और उन्हें पंड्या ने सीमा शुल्क के लिए डिक्लेयर नहीं किया था और इसके लिए कोई शुल्क भी नहीं दिया था. क्रुणाल पंड्या के पास से घड़ियों को जब्त कर लिया गया और कस्टम को वैल्यूएशन के लिए सौंप दिया गया. सूत्रों के अनुसार पंड्या को आधी रात के आसपास जाने दिया गया.
घड़ियों का वैल्यूएशन पूरा होने के बाद, पंड्या को कस्टम ड्यूटी के रूप में इसकी वैल्यू का करीब 38 प्रतिशत मूल्य चुकाना होगा. पंड्या के खिलाफ लगाए जाने वाले जुर्माने की राशि के बारे में आगे का फैसला प्राधिकरण करेगा. एक बार जब पंड्या ने सीमा शुल्क और जुर्माने का भुगतान कर दिया, तो जब्त की गई लक्जरी घड़ियां उन्हें सौंप दी जाएंगी.
गुरुवार शाम को क्रुणाल पंड्या से एयरपोर्ट पर DRI ने शाम 5 बजे पूछताछ शुरू की और ज्यादा मात्रा में सोना लाने के कारण फाइन भी लगाया गया.

दुनिया का तीसरा ध्रुव 50 सालों में खिसका 450 मीटर पीछे, ग्लोबल वार्मिंग से पड़ रहा भारी असर

Previous article

सत्यमेव जयदेव ट्रस्ट ने की पर्यावरण संरक्षण की अनौखी पहल, गाय के गोबर से बनाई लक्ष्मी-गणेश की मूर्तियां

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.