featured यूपी

डॉ. सुभाष सुंदरियाल के बताए उपाय अपनाएं, खुद को मौसमी बीमारियों से बचाएं

डॉ. सुभाष सुंदरियाल के बताए उपाय अपनाएं, खुद को मौसमी बीमारियों से बचाएं    

 

लखनऊ: मानसून की बारिश के साथ ही मौसमी बीमारियों का दौर भी शुरू हो गया है। इस दौरान हमारी लापरवाही इनमें और तेजी से इजाफा कर देती है। ऐसे में इन मौसमी बीमारियों से कैसे सुरक्षित रह सकते हैं और इसके शिकार होने पर क्‍या करना चाहिए, इस पर डॉ. श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी (सिविल अस्‍पताल) के निदेशक डॉ. सुभाष सुंदरियाल से Bharatkhabar.com ने खास बातचीत की।

उबालकर पिएं पानी  

सिविल अस्‍पताल के निदेशक डॉ. सुभाष सुंदरियाल ने डायरिया से बचाव के बारे में बताते हुए कहा कि, अगर आपको लगता है  कि आपके घर का पानी गंदा, मटमैला है या पीने लायक नहीं है तो आप पानी को उबाल लें और फिर उसे ठंडा करके पी सकते हैं। अगर आपके घर में आरओ लगा है तो उसका पानी पिएं। उन्‍होंने बताया कि, पानी को खुला ना रखें बल्कि उसे ढक कर रखें और 24 घंटे से ज्यादा उसी पानी का इस्तेमाल ना करें।

डॉ. सुंदरियाल ने बताया कि, बच्चों को पानी उबालकर साफ बर्तन में रखकर ही दीजिए। यदि बच्चों को दस्त शुरू हो जाते हैं तो उनको पानी देना बंद नहीं करना है, नहीं तो उनके शरीर में पानी की कमी हो जाएगी जो स्थिति को गंभीर कर सकता है। साथ ही उन्‍होंने कहा कि, घर के अंदर और घर के बाहर साफ-सफाई बहुत जरूरी है, जिससे कि गंभीर बीमारियों से बचा जा सके।

घरेलू उपचार न करें

सिविल के निदेशक ने बताया कि, कोरोना संकट के इस समय में जो लोग बुखार, खांसी, जकड़न, सीने में दर्द जैसे शिकायतों से पीड़ित हैं, उन्हें अपना ज्यादा ख्याल रखने की जरूरत है क्योंकि अभी कोरोना पूरी तरह से खत्‍म नहीं हुआ है। ऐसे में ये कोरोना के लक्षण भी हो सकते हैं। खासकर बुखार और खांसी की शिकायत होने पर घरेलू उपचार ना करें बल्कि आस-पास के किसी सरकारी अस्‍पताल में जाकर अपना कोरोना टेस्‍ट करवाएं और उचित दवाइयां लें।

फ्रिज में न रखें बासी खाना’  

फूड प्वाइजनिंग के सवाल पर डॉ. सुभाष सुंदरियाल ने कहा कि, बदलते मौसम में या बारिश के मौसम में फास्ट फूड खाने से बचना चाहिए। अगर आप हॉस्टल में हैं, घर से बाहर हैं या ऐसी किसी जगह पर हैं, जहां आपका परिवार आपके साथ नहीं रहता है तो आपको ऐसी जगह से खाना खाना चाहिए जहां लगातार खाना बनता हो और बिकता हो। मगर, जहां तक को हो सके तो कोशिश करें कि घर का बना हुआ खाना ही खाएं। साथ ही उन्‍होंने कहा कि, घर पर बचा हुआ खाना फ्रिज में ना रखें। बासी खाने का सेवन ना करें, क्‍योंकि ऐसा करने से आप डायरिया या फूड प्वाइजनिंग का शिकार हो सकते हैं।

 

यहां देखिए वीडियो:

 

 

Related posts

राम रहीम ने कहा- ‘जेल का खाना पसंद नहीं, मांगने पर भी नहीं मिली चाय’

Pradeep sharma

ईवीएम मुद्दा: 16 पार्टियों के प्रतिनिधिमंडल मंडल ने राष्ट्रपति से की मुलाकात

Rahul srivastava

इन शहरों के लिए शुरू होने जा रहा AC बस का सफर

Aditya Mishra