featured यूपी

इटावा सांसद ने लोकसभा में उठाया औरैया जंक्शन का मुद्दा, कहा- रेलमार्ग बन जाने से लोगों को होगी सुविधा

इटावा सांसद ने लोकसभा में उठाया औरैया जंक्शन का मुद्दा, कहा- रेलमार्ग बन जाने से लोगों को होगी सुविधा

औरैया: इटावा सांसद रामशंकर कठेरिया ने लोकसभा में बोलते हुए कहा कि उनके संसदीय क्षेत्र के दो जिले औरैया और कानपुर देहात में कोई भी रेल लाइन नहीं है।

यहां पर अभी तक कोई रेल संपर्क विकसित नहीं हो पाया है। उन्होंने औरैया के लिए रेलवे जंक्शन बनाने की मांग की है।

‘2014 में हुआ था सर्वे, अब तक रुका हुआ है काम’

लोकसभा में आवाज उठाते हुए बीजेपी सांसद ने कहा कि औरैया को रेललाइन से जोड़ने के लिए सर्वे का काम 2014 में ही पूरा कर लिया गया था, लेकिन इतने वर्षों के बाद भी अभी तक रेलमार्ग के निर्माण और ट्रेनों के संचालन का काम नहीं किया जा सका है।

‘औरैया को बनाया जाए रेलवे जंक्शन’

गुरुवार को लोकसभा में कठेरिया ने इस मुद्दे को उठाते हुए कहा कि फफूंद से जालौन-कोंच तक रेलमार्ग अगर बन जाता है तो इससे बाबारपुर, अजीतमल, औरैया, सिकंदरा, सट्टी, राजपुर, भोगनीपुर आदि स्टेशन बन जाएंगे। उन्होंने कहा कि इससे औरैया को रेलवे जंक्शन बनाया जा सकेगा।

‘रेलमार्ग बनने से सभी को होगा लाभ’

इस रेलखंड के बन जाने से किसानों के साथ-साथ आम लोगों को भी फायदा होगा। इससे घी, दलहन, तिलहन के कारोबार को बढ़ावा मिलेगा और व्यापारियों को बड़ा लाभ होगा।

उन्होंने बताया कि इससे गेल और एनटीपीसी व दूसरी कंपनियों में काम कर रहे लाखों लोगों को आवागमन में सुविधा होगी और लोगों को आराम हो जाएगा।

‘कानपुर की ट्रेनों का लोड हो जाएगा कम’

बीजेपी सांसद ने कहा कि इस रेलमार्ग के बन जाने से कानपुर से ट्रेनों का लोड कम हो जाएगा, इससे आउटर में ट्रेनों को रोकना नहीं पड़ेगा। इससे साथ ही ट्रेनों की ओवरलोडिंग बंद होने से हादसों पर भी लगाम लगाई जा सकेगी।

वहीं ट्रेन के लेट होने के अलावा ट्रेनों से संबंधित दूसरी समस्याओं पर भी काबू पाया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि जब 2014 में सर्वे का काम पूरा हो चुका है तो फिर रेलमार्ग बनाने में कोताही क्यों की जा रही है।

Related posts

दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने दी चुनाव आयोग को चुनौती!

kumari ashu

आज शुरू होगी सीबीएसई के मेजर विषयों पर परीक्षा, कोरोना गाइडलाइन का पालन करने के दिए निर्देश

Rahul

राहुल गांधी का केंद्र सरकार पर हमला, बोले- खेती को बर्बाद कर देने तीनों कानून

Aman Sharma