4012 अवैध अतिक्रमणों का ध्वस्तीकरण, 7397 अतिक्रमणों का चिन्हीकरण व 109 भवनों के सीलिंग का कार्य सम्पादित

देहरादून। अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने बताया कि मा.न्यायालय के निर्देशों के क्रम में देहरादून शहर में मसूरी-देहरादून विकास प्राधिकरण, नगर निगम देहरादून एवं जिला प्रशासन देहरादून द्वारा जन सामान्य हेतु बनाये गये फुटपाथों, गलियों, सड़कों एवं अन्य स्थलों पर किये गये अनधिकृत निर्माणों एवं अवैध अतिक्रमणों में ध्वस्तीकरण, चिन्हांकन व सीलिंग का कार्य निरन्तर किया जा रहा है।

अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने कहा कि मा.न्यायालय के निर्देशानुसार टास्क फार्स के अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा जिस लगन व निष्ठा के साथ अतिक्रमण हटाने का कार्य किया जा रहा है, वह सराहनीय है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि जिस तत्परता के साथ टास्क फोर्स द्वारा चिन्हित अतिक्रमणों को हटाया जा रहा है, उससे शीघ्र ही शहर को अतिक्रमण मुक्त करने में निश्चित रूप से हमें सफलता मिल सकेगी और मा.न्यायालय के निर्देशों का पालन भी सुनिश्चित होगा। ओमप्रकाश ने टास्क फोर्स के अधिकारियों को निर्देश दिये है कि जिन लोगों के भवनों का ध्वस्तीकरण किया जा रहा है, उन लोगों की बातों को सुनते हुए अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही सम्पादित करें।

ओमप्रकाश ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि बारिश के दौरान ध्वस्त किये गये भवनों, बाउंड्रीवॉल आदि का मलबा सड़कों पर रहने से परेशानी न हो, इस लिये मलबे को हटाने की कार्यवाही में और अधिक तेजी लाई जाए। उन्होंने कहा कि नगर निगम की सीमा में हुए अतिक्रमण को हर कीमत पर हटाया जायेगा। अतिक्रमणकारी चाहे कितना भी प्रभावीशाली क्यों न हो, उन्हें किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जायेगा। ओमप्रकाश ने बताया कि बीते शनिवार को इस अभियान के अन्तर्गत 179 अवैध अतिक्रमणों के ध्वस्तीकरण, 66 अतिक्रमणों के चिन्हीकरण व 01 भवन के सीलिंग का कार्य सम्पादित किया गया है। इस प्रकार अब तक कुल 4012 अवैध अतिक्रमणों का ध्वस्तीकरण, 7397 अतिक्रमणों का चिन्हीकरण व 109 भवनों के सीलिंग का कार्य सम्पादित किया जा चुका है।