January 23, 2022 5:33 pm
Breaking News यूपी

अपनी मांगों को लेकर SCERT कार्यालय पहुंच रहे ‘योग्य अभ्यर्थी’, करेंगे महाधरना

अपनी मांगों को लेकर SCERT कार्यालय पहुंच रहे 'योग्य अभ्यर्थी', करेंगे महाधरना

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में अनलॉक शुरू होते ही प्रदर्शनों का दौर भी शुरू हो गया है। दरअसल, राजधानी स्थित SCERT कार्यालय पर सैकड़ों की तादाद में अभ्यर्थी पहुंच रहे है। ये वो अभ्यर्थी हैं, जो 69000 सहायक शिक्षक भर्ती में 22000 सीटों को जुड़वाने की मांग कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपने की तैयारी

प्रदर्शन करने जा रहे अभ्यर्थियों के हाथों में ज्ञापन की एक कॉपी है, जो मुख्यमंत्री के नाम है। ज्ञापन में 68500 एवं 69000 सहायक शिक्षक भर्ती की बात लिखी गई है। साथ ही अभ्यर्थियों के हाथों में कई बैनर्स व पोस्टर भी मौजूद हैं, जिसमें ‘ योग्यता आज है लाचार योगी जी सुनो पुकार’, ‘1.37 लाख शिक्षक भर्ती को पूरा करें, 68500 में रिक्त पदों को 69000 से ही भरें’ लिखा हुआ है।

WhatsApp Image 2021 06 21 at 10.57.33 AM अपनी मांगों को लेकर SCERT कार्यालय पहुंच रहे 'योग्य अभ्यर्थी', करेंगे महाधरना

क्या है मामला

प्रदर्शन करने पहुंचे अभ्यर्थियों का कहना है कि 68500 की भर्ती में 22000 हज़ार से अधिक सीटें रिक्त रह गई हैं। नियम यह कहता है कि रिक्त पद दूसरी भर्ती में जुड़े, जो कि 69000 सहायक शिक्षक भर्ती है। हालांकि सरकार इसे नहीं जोड़ रही है। हम योग्य होकर भी इस भर्ती से बाहर हैं। हमारी मांग है कि 22000 सीटें हमें दी जाएं। हमें भी नौकरी मिले। हम योग्य हैं, हम सरकार द्वारा मानकों को पूरा करके भी अयोग्य करार दे दिए गए हैं। 105 , 110 नम्बर लाने के बावजूद हम बेरजोगार हैं।

मानसिक और आर्थिक स्थिति दयनीय

कथित योग्य अभ्यर्थियों का कहना है कि हम मानसिक और आर्थिक तौर पर बहुत ज्यादा परेशान हैं। योग्यता साबित करने के बाद भी हम घरों पर बैठे हैं। कोरोना काल में हमारी हालात और भी बदतर हो चुकी है। रिक्त पद होने के बावजूद हमें नौकरी नहीं दी जा रही, मानकों को भी पूरा कर हमें कोई फायदा नहीं पहुंचा है। जो हमसे काम योग्य हैं, वो नौकरी कर रहे और हम कट ऑफ क्लियर करने के बावजूद घरों पर बैठे हैं, बेरोजगार हैं।

WhatsApp Image 2021 06 21 at 10.57.36 AM अपनी मांगों को लेकर SCERT कार्यालय पहुंच रहे 'योग्य अभ्यर्थी', करेंगे महाधरना

मांगे पूरी न होने पर करेंगे इच्छा मृत्यु की मांग

वहीं प्रदर्शन करने पहुंचे अभ्यर्थियों का कहना है कि अगर हमारी मांगे पूरी नहीं हुई तो हम सरकार से इच्छा मृत्यु की मांग करेंगे।

Related posts

भारत-पाक बॉर्डर पर जारी है तनाव, जवानों के साथ आम लोगों की भी हो रही मौत

Vijay Shrer

NRC के अंतिम प्रकाशन से पूर्व असम में तैनात 10 हजार अर्धसैनिक बलों को हटाया

Trinath Mishra

भगवान बद्री विशाल के दर्शन के बाद देश के आखिरी गांव पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ, आईटीबीपी के जवानों से की मुलाकात

Trinath Mishra